अमेरिका में अब सभी को नहीं लगेगा ‘johnson and johnson' का कोरोना टीका, जानिए क्या है वजह

Edited By Seema Sharma,Updated: 06 May, 2022 04:08 PM

us now not everyone will get johnson and johnson corona vaccine

अमेरिका के दवा नियामक ने खून के थक्के जमने के गंभीर जोखिम के मद्देनजर जॉनसन एंड जॉनसन (J&J) के covid-19 रोधी टीके के इस्तेमाल को लेकर कुछ प्रतिबंध लागू कर दिए हैं।

इंटरनेशनल डेस्क: अमेरिका के दवा नियामक ने खून के थक्के जमने के गंभीर जोखिम के मद्देनजर जॉनसन एंड जॉनसन (J&J) के covid-19 रोधी टीके के इस्तेमाल को लेकर कुछ प्रतिबंध लागू कर दिए हैं। खाद्य एवं औषधि प्रशासन (FDA) ने कहा कि अब इस टीके की खुराक केवल उन वयस्कों को दी जा सकेगी, जो कोई अन्य वैक्सीन नहीं ले सकते या फिर खासतौर पर J&J का टीका लगवाने का अनुरोध करते हैं। अमेरिकी अधिकारी कई महीनों से सिफारिश कर रहे हैं कि अमेरिका के लोग ‘J&J' टीके के बजाए ‘फाइजर' या ‘मॉडर्ना' की वैक्सीन ही लगवाएं।

 

FDA के टीके से जुड़े मामलों के प्रमुख डॉ. पीटर मार्क्स ने बताया कि एजेंसी खून के थक्के जमने के जोखिम से संबंधित आंकड़ों पर एक बार फिर गौर करने के बाद इस निष्कर्ष पर पहुंची कि ‘जेएंडजे' की वैक्सीन का इस्तेमाल सीमित किया जाना चाहिए। मार्क्स के मुताबिक, covid-19 से निपटने के लिए कई अन्य विकल्प मौजूद हैं, जो उतने ही प्रभावशाली हैं और लोगों को इनकी तरफ रुख करना चाहिए। उन्होंने कहा कि टीका लगवाने के शुरुआती दो हफ्तों में खून के थक्के जमने की शिकायत उत्पन्न हो सकती है, ऐसे में अगर आपने छह महीने पहले टीका लगवाया था तो आपके लिए चिंता की कोई बात नहीं है।

 

एफडीए ने फरवरी 2021 में 18 साल और उससे अधिक उम्र के वयस्कों में ‘J&J' के covid-19 रोधी टीके के आपात इस्तेमाल की मंजूरी दी थी। शुरुआत में इस टीके को वैश्विक महामारी से निपटने के एक महत्वपूर्ण हथियार के रूप में देखा जा रहा था, क्योंकि किसी को भी इसकी केवल एक ही खुराक लेने की जरूरत पड़ती है। हालांकि, बाद में एकल खुराक का विकल्प ‘फाइजर' और ‘मॉडर्ना' के टीकों के मुकाबले कम प्रभावशाली साबित हुआ।

 

रोग नियंत्रण एवं रोकथाम केंद्र ने दिसंबर 2021 में ‘जेएंडजे' के टीके से जुड़े सुरक्षा मुद्दों के कारण ‘मॉडर्ना' और ‘फाइजर' के टीकों को तरजीह देने की सिफारिश की थी। आंकड़ों के अनुसार, अमेरिका में 20 करोड़ से अधिक लोगों का पूर्ण टीकाकरण हो चुका है और इन लोगों ने ‘मॉडर्ना' व ‘फाइजर' के टीके लगवाए हैं। वहीं, 1.7 लाख से कम लोगों को ‘J&J' की वैक्सीन लगाई गई है।

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!