ब्रिटिश पुलिस ने UK में बसे पाकिस्तानी निर्वासितों के लिए जारी की चेतावनी

Edited By Tanuja,Updated: 06 Feb, 2022 12:24 PM

your lives are in danger police warn pakistani dissidents in uk

ब्रिटेन में आतंकवाद विरोधी पुलिस ने देश में शरण लेने वाले पाकिस्तानी निर्वासितों के लिए चेतावनी जारी की है। यूके पुलिस बलों और सुरक्षा सेवाओं के ...

लंदनः ब्रिटेन में आतंकवाद विरोधी पुलिस ने देश में  शरण लेने वाले पाकिस्तानी निर्वासितों के लिए चेतावनी जारी की  है।  यूके पुलिस बलों और सुरक्षा सेवाओं के सहयोग से काउंटर टेररिज्म पुलिसिंग ने  बताया है कि यदि वे यूके के भीतर यात्रा करने का इरादा रखते हैं तो उन्हें पुलिस को सूचित करने की आवश्यकता है। पाकिस्तानी निर्वासितों को आतंकवाद विरोधी पुलिस द्वारा सलाह दी जा रही है कि वे चेतावनी के बाद अपनी प्रोफाइल लो रखें क्योंकि उनकी जान को खतरा है। यह चेतावनी हाल ही में एक परीक्षण के बाद आया है जिसमें लंदन के एक हिटमैन को एक पाकिस्तानी असंतुष्ट की हत्या की साजिश का दोषी पाया गया था।

 

जानकारी के अनुसार  मुहम्मद गोहिर खान को पिछले साल नीदरलैंड में एक असंतुष्ट ब्लॉगर और पाकिस्तानी खुफिया सेवाओं के उग्र आलोचक अहमद वकास गोराया को मारने के लिए £ 100,000 की पेशकश की गई थी। बता दें कि नीदरलैंड्स में निर्वासित जीवन जी रहे पाकिस्तान के राजनीतिक ब्लॉगर अहमद वकास गोरया की हत्या की साजिश के मामले में ब्रिटिश कोर्ट ने लंदन के एक सुपर मार्केट कर्मचारी को दोषी ठहराया है। फैसले पर प्रतिक्रिया में गोरया ने आरोप लगाया है कि साजिश में पाकिस्तान शामिल है।

 

इसके असल दोषियों का पता लगाकर उन्हें दंडित किया जाना चाहिए। गोरया ने आरोप लगाया है कि पाकिस्तान ने  उनकी हत्या की साजिश रची थी। मामले में 31 साल के सुपर मार्केट कर्मचारी मुहम्मद गोहिर खान को दोषी ठहराया गया है। गोरया ने कहा कि पाकिस्तान में बैठे बिचौलियों ने हत्या की साजिश रचकर खान को यह जिम्मा सौंपा था। खान को मार्च के दूसरे सप्ताह में सजा दिए जाने की उम्मीद है। खान पर पिछले साल जून में गोराया की हत्या का साजिश रचने का आरोप है।पाकिस्तानी एक्टिविस्ट और ब्लागर गोरया ने पाकिस्तान में पांच ब्लागरों के अपहरण के बाद देश को छोड़ने का फैसला ले लिया था। वह फिलहाल नीदरलैंड्स में रह रहे हैं। 

 

पाकिस्तानी अखबार डॉन के अनुसार खान से एक पाकिस्तानी बिचौलिए मुजामिल से 2021 में संपर्क किया और इस काम के लिए पैसों का लेन-देन हुआ।दक्षिण पश्चिम लंदन की किंग्सटन कोर्ट ने खान को दोषी ठहराया है। उस पर पिछले साल जून में आरोप लगा था कि उसने अन्य लोगों के साथ मिलकर नीदरलैंड्स में गोरया की हत्या की साजिश रची। उसे नीदरलैंड्स से ट्रेन से ब्रिटेन लौटते वक्त गिरफ्तार किया गया था। गोरया करीब एक दशक से ज्यादा समय से पाकिस्तान के बाहर रह रहे हैं। वह सुनवाई में हाजिर नहीं हुए थे। उनका कहना है कि वह खान को दोषी ठहराए जाने से खुश हैं, लेकिन उन्होंने कहा कि मामले के असली दोषी पाकिस्तान में बैठे हैं, उन्हें दंडित किया जाना चाहिए। इस पर ब्रिटेन के कानूनी अधिकारियों ने कहा है कि मामले की जांच जारी रखी जाएगी, जो भी दोषी होगा, उसे दंडित किया जाएगा।

 

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!