बाजार में छठे दिन गिरावट, सेंसेक्स 135 अंक टूटकर एक साल से अधिक के निचले स्तर पर

Edited By PTI News Agency, Updated: 17 Jun, 2022 06:33 PM

pti maharashtra story

मुंबई, 17 जून (भाषा) घरेलू शेयर बाजारों में शुक्रवार को लगातार छठे दिन गिरावट रही और बीएसई सेंसेक्स उतार-चढ़ाव भरे कारोबार में 135 अंक टूटकर एक साल निचले स्तर 51,360.42 अंक पर बंद हुआ।

मुंबई, 17 जून (भाषा) घरेलू शेयर बाजारों में शुक्रवार को लगातार छठे दिन गिरावट रही और बीएसई सेंसेक्स उतार-चढ़ाव भरे कारोबार में 135 अंक टूटकर एक साल निचले स्तर 51,360.42 अंक पर बंद हुआ।
मुद्रास्फीति को काबू में करने के लिए वैश्विक स्तर पर कई केंद्रीय बैंकों की तरफ से ब्याज दरों में वृद्धि और और आर्थिक वृद्धि में सुस्ती की आशंका से स्थानीय शेयर बाजारों में पूरे सप्ताह गिरावट का माहौल रहा।
विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) की घरेलू शेयर बाजारों से लगातार निकासी और कच्चे तेल की कीमतों में उछाल से भी निवेशकों की धारणा प्रभावित हुई।

तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 135.37 अंक यानी 0.26 प्रतिशत की गिरावट के साथ एक साल के निचले स्तर 51,360.42 अंक पर बंद हुआ।
इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 67.10 अंक यानी 0.44 प्रतिशत टूटकर 15,293.50अंक पर बंद हुआ।

सेंसेक्स की कंपनियों में टाइटन में सबसे अधिक 6.06 प्रतिशत की गिरावट हुई। विप्रो, डॉ रेड्डीज, एशियन पेंट्स, सन फार्मा, एलएंडटी, अल्ट्राटेक सीमेंट और पावरग्रिड के शेयर भी गिरावट में रहे।
वहीं दूसरी तरफ बजाज फाइनेंस, बजाज फिनसर्व, आईसीआईसीआई बैंक, रिलायंस इंडस्ट्रीज, आईटीसी, एचडीएफसी बैंक और टाटा स्टील के शेयर लाभ के साथ बंद हुए।
जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘केंद्रीय बैंकों के आगे भी नीतिगत दरों में बड़ी वृद्धि के संकेत को देखते हुए विदेशी निवेशकों की लगातार निकासी जारी रहने की संभावना है। घरेलू बाजार में अल्प अवधि में उतार-चढ़ाव का सिलसिला जारी रहेगा।’’
उन्होंने कहा, ‘‘हालांकि मौजूदा गिरावट मध्यम से दीर्घकाल के लिये निवेश का एक अवसर है।’’
साप्ताहिक आधार पर सेंसेक्स में 2,943.02 अंक यानी 5.42 प्रतिशत जबकि निफ़्टी में 908.30 अंक यानी 5.61 प्रतिशत की गिरावट हुई है।
पिछले छह कारोबारी सत्रों में निवेशकों को 18.17 लाख करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। इससे बीएसई में सूचीबद्ध कंपनियों का बाजार पूंजीकरण घटकर 2,36,77,816.08 रुपये रह गया।
व्यापार बाजार में बीएसई का स्मॉलकैप सूचकांक 0.88 प्रतिशत और मिडकैप सूचकांक 0.68 प्रतिशत की गिरावट के साथ बंद हुए।
एशिया के अन्य बाजारों में जापान का निक्की और दक्षिण कोरिया का कॉस्पी नुकसान में जबकि हांगकांग का हैंगसेंग और चीन में शंघाई कंपोजिट सूचकांक लाभ में रहे।

यूरोपीय बाजारों में दोपहर कारोबार में तेजी का रुख था। अमेरिकी शेयर बाजार बृहस्पतिवार रात को भारी गिरावट के साथ बंद हुए।
इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.96 प्रतिशत उछलकर 120.96 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया।

शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशक पूंजी बाजार में शुद्ध बिकवाल रहे। उन्होंने बृहस्पतिवार को 3,257.65 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

Related Story

Trending Topics

England

India

Match will be start at 08 Jul,2022 12:00 AM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!