रुपये ने निचले स्तर से की वापसी, तीन पैसे चढ़कर 79.30 प्रति डॉलर पर

Edited By PTI News Agency,Updated: 06 Jul, 2022 04:50 PM

pti maharashtra story

मुंबई, छह जुलाई (भाषा) रुपया बुधवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले अपने अबतक के सबसे निचले स्तर से उबरने में सफल रहा और तीन पैसे की बढ़त के साथ 79.30 प्रति डॉलर (अस्थायी) के भाव पर बंद हुआ।

मुंबई, छह जुलाई (भाषा) रुपया बुधवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले अपने अबतक के सबसे निचले स्तर से उबरने में सफल रहा और तीन पैसे की बढ़त के साथ 79.30 प्रति डॉलर (अस्थायी) के भाव पर बंद हुआ।

कारोबारियों के मुताबिक, कच्चे तेल की अंतरराष्ट्रीय कीमत में गिरावट आने और विदेशी कोषों की निकासी पर लगाम लगने से रुपये को समर्थन मिला।

अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया 79.29 के भाव पर मजबूती के साथ खुला था लेकिन बाद में उसमें उतार-चढ़ाव का जोर रहा। कारोबार के दौरान रुपया 79.24 के ऊंचे स्तर और 79.37 के निचले स्तर पर भी पहुंचा।

कारोबार के अंत में रुपया 79.30 रुपये प्रति डॉलर के भाव पर बंद हुआ जो एक दिन पहले की तुलना में तीन पैसे की मजबूती को दर्शाता है। पिछले कारोबारी सत्र में रुपया 79.33 के रिकॉर्ड निचले स्तर पर बंद हुआ था।

शेयरखान बाय बीएनपी परिबाा के शोध विश्लेषक अनुज चौधरी ने कहा, ‘‘घरेलू शेयर बाजारों के सकारात्मक रुख और कच्चे तेल की कीमत में आई गिरावट से रुपये को मजबूती मिली। इसके अलावा विदेशी संस्थागत निवेशकों के लिवाल रहने से भी रुपये को समर्थन मिला।’’
चौधरी के मुताबिक, डॉलर के मजबूत बने रहने और वैश्विक निवेश जोखिम को लेकर धारणा कमजोर होने से निवेशकों की धारणा को मजबूती मिली।

उन्होंने कहा, ‘‘कच्चे तेल की कीमत एक दिन पहले 100 डॉलर प्रति बैरल से नीचे आ गई थी। अगर कच्चा तेल 100 डॉलर के स्तर से नीचे ही बना रहता है तो इससे रुपये को निचले स्तर पर तगड़ा समर्थन मिलेगा।’’
अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चा तेल मानक ब्रेंट क्रूड वायदा मंगलवार को 10 प्रतिशत तक गिर गया था। हालांकि बुधवार को वह थोड़ा सुधरकर 104.06 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया।
घरेलू स्तर पर शेयर बाजारों में तेजी का रुख रहा। सेंसेक्स 616.62 अंक बढ़कर 53,750.97 अंक पर पहुंच गया जबकि निफ्टी 178.95 अंक की बढ़त के साथ 15,989.80 अंक हो गया।

हालांकि डॉलर के मजबूत बने रहने से रुपया अपनी सुधरी स्थिति को देर तक कायम नहीं रख पाया। दुनिया की छह प्रमुख मुद्राओं के समक्ष डॉलर की मजबूती को आंकने वाला डॉलर सूचकांक 0.18 प्रतिशत बढ़कर 106.72 अंक पर पहुंच गया।

इस बीच, विदेशी संस्थागत निवेशकों की बिकवाली थमती हुई नजर आ रही है। शेयर बाजारों से मिले आंकड़ों के मुताबिक मंगलवार को विदेशी निवेशकों ने 1,295.84 करोड़ रुपये के शेयरों की शुद्ध खरीदारी की।




यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!