बांग्लादेशी मंत्री ने पैगंबर पर टिप्पणी करने वालों पर कार्रवाई के लिए मोदी सरकार को दी बधाई

Edited By Tanuja, Updated: 12 Jun, 2022 05:23 PM

bangladeshi minister praises modi govt for taking action in prophet case

बांग्लादेश के सूचना प्रसारण मंत्री डॉक्टर हसन महमूद ने भारत में पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ टिप्पणी के मामले में कानूनी कार्रवाई के लिए केंद्र सरकार को...

ढाका: बांग्लादेश के सूचना प्रसारण मंत्री डॉक्टर हसन महमूद ने भारत में पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ टिप्पणी के मामले में कानूनी कार्रवाई के लिए केंद्र सरकार को बधाई दी और कहा कि पैगंबर के खिलाफ किसी भी तरह के बयान की निंदा की जानी चाहिए। भारत से आए पत्रकारों के एक प्रतिनिधिमंडल के साथ बातचीत में महमूद ने कहा, ''पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ कहीं भी कुछ होता है तो उसकी निंदा की जानी चाहिए, साथ ही हम भारत सरकार को बधाई देते हैं कि उसने उन लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जिन्होंने पैगंबर पर टिप्पणी की थी।''

 

उन्होंने कहा कि इस मामले में भारत में प्राथमिकी दर्ज की जा चुकी है और उम्मीद जताई कि इसके बाद आगे की प्रक्रिया होगी। अरब समेत अन्य देशों की तरह बांग्लादेश सरकार द्वारा आधिकारिक तौर पर इस मामले में निंदा नहीं किए जाने के संदर्भ में महमूद ने इसे अपने देश के लिए बाहरी मामला बताया। उन्होंने कहा, ‘‘पहली बात तो यह है कि यह आंतरिक मामला नहीं है, बल्कि एक बाहरी मामला है। यह भारत का आंतरिक मामला है। दुनिया में कहीं भी कुछ होता है तो कुछ इस्लामी पार्टियां यहां प्रदर्शन करती हैं और ऐसा आमतौर पर होता है।'' महमूद ने कहा कि लेकिन यहां बांग्लादेश में यह उस तरह का ध्यान खींचने वाला मुद्दा नहीं है, जिस तरह यह अरब देशों, पाकिस्तान और मलेशिया के लिए है।

 

कट्टरपंथी तत्वों द्वारा प्रधानमंत्री शेख हसीना सरकार पर इस मामले में समझौता करने का आरोप लगाये जाने के सवाल पर उन्होंने कहा, ‘‘पैगंबर के खिलाफ टिप्पणी के मामले में बांग्लादेश सरकार कोई समझौता नहीं कर रही है और न ही कभी करेगी। मैंने खुद इसकी निंदा की है। सार्वजनिक बैठक में इस मामले में निंदा की।'' गौरतलब है कि दिल्ली पुलिस ने पैगंबर पर टिप्पणी के मामले में भाजपा की निलंबित नेता नुपुर शर्मा और पार्टी से निष्कासित नवीन कुमार जिंदल समेत कुछ लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है। महमूद ने कहा कि बांग्लादेश में कुछ 'फैनेटिक' (कट्टर) समूह हैं जो संख्या में बेहद कम होने और किसी तरह का समर्थन हासिल नहीं होने के बावजूद जोरदार तरीके से आवाज उठाते हैं।

 

 

Related Story

England

India

Match will be start at 08 Jul,2022 12:00 AM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!