ऑस्ट्रेलिया के राष्ट्रीय हितों को चीन से गंभीर खतराः विदेश मंत्री पायने

Edited By Tanuja, Updated: 11 Sep, 2021 03:07 PM

certain china s actions threatened australia s national interests

आस्ट्रेलिया की विदेश मंत्री मारिस पायने और रक्षा मंत्री पीटर डटन के साथ टू प्लस टू वार्ता में भारत की तरफ से रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और ...

इंटरनेशनल डेस्क: आस्ट्रेलिया की विदेश मंत्री मारिस पायने और रक्षा मंत्री पीटर डटन के साथ टू प्लस टू वार्ता  में भारत की तरफ से रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और विदेश मंत्री एस जयशंकर भाग ले रहे हैं।  इस बैठक से पहले आस्ट्रेलिया की विदेश मंत्री मैरिस पायने ने शुक्रवार को अपने संबोधन में कहा कि हाल के दिनों में चीन ने रिश्तों में चुनौतियां पेश की हैं और उसके कुछ कामों ने उनके देश के राष्ट्रीय हितों को खतरे में डाला है।

 

आब्जर्वर रिसर्च फाउंडेशन द्वारा आयोजित तीसरे हिंद-प्रशांत व्याख्यान में पायने से जब आस्ट्रेलिया की चीन नीति के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, 'हाल के दिनों में हमने देखा है कि चीन ने निश्चित रूप से रिश्तों में चुनौतियां पेश की हैं। क्योंकि हमने उसके कुछ कामों को आस्ट्रेलिया के राष्ट्रीय हितों के लिए खतरा माना है। ऐसे कई काम हैं जिनको कैनबरा में राजनयिकों ने सार्वजनिक रूप से गिनाया है। उन्हें कैनबरा में चीनी दूतावास द्वारा मीडिया को उपलब्ध कराया गया था।'

 

उन्होंने आगे कहा, 'जो देश स्वतंत्र मीडिया का सम्मान करते हैं वे उस पर प्रतिबंध के लिए सहमत नहीं होंगे। जो देश थिंक टैंक और विश्वविद्यालयों जैसे संस्थानों की आजादी का सम्मान करते हैं, वे उन पर बंदिशें लगाने पर सहमत नहीं होंगे। जो देश साइबर स्पेस और अन्य क्षेत्रों में अपनी सुरक्षा की रक्षा करते हैं, वे ऐसा करने पर सहमत नहीं होंगे। और जब हम कहते हैं कि हमारे राष्ट्रीय हित ऐसे कामों से आगे नहीं बढ़ते तो हम हमेशा ऐसा कहेंगे।'

 

बैठक में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि हमारे डिफेंस इंगेजमेंट्स के प्लेटफार्म की इंटरापरेबिलिटी में उल्लेखनीय वृद्धि हुई है। द्विपक्षीय और बहुपक्षीय इंगेजमेंट्स में ज्वाइंट एक्सरसाइजेज से हमारी सेनाओं की काम्पलेक्सिटी और सिनर्जी में भी काफी वृद्धि हुई है। हम आर्टिफिसियल इंटेलिजेंस, अनमैनड वीकल्स और अन्य विशेष तकनीक सहित रक्षा उद्योग में सहयोग के लिए भी नए क्षेत्रों को एक्सप्लोर करने की कोशिश कर रहे हैं।

 

यह वार्ता 12 सितंबर तक चलेगी। भारत और आस्ट्रेलिया के बीच यह पहली टू प्लस टू वार्ता है। इसके बारे में 4 जून, 2020 को दोनों देशों की बैठक में फैसला किया गया था। इसमें दोनों देशों के बीच हिंद-प्रशांत क्षेत्र में रणीतिक साझेदारी के तहत रक्षा और सुरक्षा संबंधों को मजबूती देने पर विचार-विमर्श किया जाएगा।

Related Story

Test Innings
England

India

Match will be start at 01 Jul,2022 04:30 PM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!