निर्वाचन आयोग अंतिम रूप से तैयार की गई जम्मू-कश्मीर मतदाता सूची को इस तारीख को करेगा प्रकाशित

Edited By Pardeep,Updated: 30 Jun, 2022 10:52 PM

election commission will publish the jammu and kashmir voter list on this date

निर्वाचन आयोग 31 अक्टूबर को जम्मू-कश्मीर की अंतिम तौर पर तैयार मतदाता सूची प्रकाशित करेगा। परिसीमन की कवायद में विधानसभा क्षेत्रों का दायरा फिर से तय किये जाने के बाद केंद्र शासित

नई दिल्लीः निर्वाचन आयोग 31 अक्टूबर को जम्मू-कश्मीर की अंतिम तौर पर तैयार मतदाता सूची प्रकाशित करेगा। परिसीमन की कवायद में विधानसभा क्षेत्रों का दायरा फिर से तय किये जाने के बाद केंद्र शासित प्रदेश की पहली मतदाता सूची को फिर से तैयार किया गया। जम्मू-कश्मीर के मुख्य निर्वाचन अधिकारी को लिखे पत्र में निर्वाचन आयोग ने 31 अक्टूबर को मतदाता सूची के अंतिम प्रकाशन से पहले विभिन्न गतिविधियों को पूरा करने के लिए समयसीमा दी है। 

अधिकारियों ने कहा कि मतदाता सूची अद्यतन होती रहेगी क्योंकि लोगों को मतदाता के रूप में नामांकित करने के लिए हर साल चार ‘कट-ऑफ' तारीखें हैं। इससे पूर्व, वर्ष के पहले दिन या उससे पहले 18 वर्ष के होने वाले लोग एक जनवरी को मतदाता बनने के लिए आवेदन कर सकते थे। अब, 1 जनवरी, 1 अप्रैल, 1 जुलाई और 1 अक्टूबर को या उससे पहले 18 वर्ष के हो जाने वाले लोग मतदाता बनने के लिए आवेदन कर सकते हैं। 

विशेष सारांश संशोधन, 2019 के बाद जम्मू कश्मीर में विभिन्न कारणों से मतदाता सूची का वार्षिक संशोधन नहीं किया जा सका था। इस बीच, केंद्र शासित प्रदेश में निर्वाचन क्षेत्रों के दायरे के पुनर्निर्धारण की कवायद चल रही थी और इस साल पांच मई को परिसीमन आयोग द्वारा अंतिम रूप से सीमांकित खंडों को अधिसूचित किया गया था। पत्र में कहा गया है, ‘‘चूंकि जम्मू और कश्मीर में पिछले तीन वर्षों से मतदाता सूची का पुनरीक्षण नहीं किया गया था, इसलिए नए पात्र मतदाता मतदाता सूची में अपना पंजीकरण नहीं करा सके।'' 

जम्मू कश्मीर के केंद्र शासित प्रदेश में पहला विधानसभा चुनाव होने से पहले मतदाता सूची में संशोधन किए जाने की आवश्यकता है। जम्मू-कश्मीर में विधानसभा चुनाव कराने की प्रक्रिया को गति देते हुए, निर्वाचन आयोग ने इस महीने की शुरुआत में केंद्र शासित प्रदेश में परिसीमन कवायद के बाद मतदाता सूची में संशोधन की शुरुआत की थी और 31 अगस्त तक मसौदा तैयार किया जाएगा। समयसीमा के अनुसार एकीकृत मसौदा मतदाता सूची का प्रकाशन एक सितंबर को किया जाएगा। सितंबर का पूरा माह दावा-आपत्ति दर्ज कराने के लिए रखा गया है, जिसका निस्तारण 15 अक्टूबर तक किया जाना है। 

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!