असम में बाढ़ का कहर जारी, 42 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित...मरने वालों की संख्या बढ़कर 71 हुई

Edited By Seema Sharma, Updated: 20 Jun, 2022 11:19 AM

flood havoc continues in assam over 42 lakh people affected

असम में बाढ़ की स्थिति और भी खराब हो गई है। रविवार को तीन बच्चों सहित नौ और लोगों की मौत हो गई जिससे मरने वालों की संख्या बढ़कर 71 हो गई है।

नेशनल डेस्क: असम में बाढ़ की स्थिति और भी खराब हो गई है। रविवार को तीन बच्चों सहित नौ और लोगों की मौत हो गई जिससे मरने वालों की संख्या बढ़कर 71 हो गई है। बाढ़ के कारण छह लोगों की मौत हो गई जबकि तीन अन्य भूस्खलन में मारे गए। सभी तीन भूस्खलन से संबंधित मौतों की सूचना कछार जिले से मिली है। इसके अलावा कम से कम आठ लोग लापता भी हो गए हैं। रविवार शाम को राज्य में बाढ़ प्रभावित लोगों की संख्या 42 लाख से अधिक हो गई।

 

बाढ़ और भूस्खलन के कारण कछार जिले से तीन मौतें हुईं, बारपेटा में दो मौतें हुईं, इसके बाद बजली, कामरूप, करीमगंज और उदलगुरी जिलों में एक-एक मौत हुई। लगातार बारिश के कारण आई बाढ़ ने असम को तबाह करना जारी रखा और लगभग 5,137 गांव बाढ़ के पानी में डूबे हुए हैं। बारपेटा सबसे अधिक प्रभावित जिला है जहां 12.76 लाख से अधिक लोग प्रभावित हैं जबकि इसके बाद दरांग में लगभग 3.94 लाख लोग और नगांव में 3.64 से अधिक लाख लोग बाढ़ की चपेट से प्रभावित हैं।

 

राज्य के 33 प्रभावित जिलों में बजली, बक्सा, बारपेटा, विश्वनाथ, बोंगाईगांव, कछार, चिरांग, दरांग, धेमाजी, धुबरी, डिब्रूगढ़, दीमा-हसाओ, गोलपारा, गोलाघाट, हैलाकांडी, होजई, जोरहाट, कामरूप, कामरूप (एम), कार्बी आंगलोंग पश्चिम, करीमगंज, कोकराझार, लखीमपुर, माजुली, मोरीगांव, नगांव, नलबाड़ी, शिवसागर, सोनितपुर, दक्षिण सलमारा, तामूलपुर, तिनसुकिया और उदलगुरी जिला शामिल हैं।

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!