बदलते समय के साथ नहीं बदला भारत तो नई टेक्नोलॉजी में पिछड़ जाएंगे हम, गुजरात में बोले मोदी

Edited By Yaspal,Updated: 04 Jul, 2022 06:29 PM

if india does not change with the changing times

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात में कहा कि बदलते समय के साथ अगर भारत ने नई तकनीक को नहीं अपनाया तो यह पिछड़ा रह जाएगा। पीएम ने कहा कि देश ने तीसरी औद्योगिक क्रांति के दौरान इसका अनुभव किया है। उन्होंने कहा कि मुझे खुशी है

नेशनल डेस्कः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात में कहा कि बदलते समय के साथ अगर भारत ने नई तकनीक को नहीं अपनाया तो यह पिछड़ा रह जाएगा। पीएम ने कहा कि देश ने तीसरी औद्योगिक क्रांति के दौरान इसका अनुभव किया है। उन्होंने कहा कि मुझे खुशी है कि 8 वर्ष पहले शुरू हुआ ये अभियान बदलते हुए समय के साथ खुद को विस्तार दे रहा है। हर साल डिजिटल इंडिया अभियान में नए आयाम जुड़े हैं, नई टेक्नोलॉजी का समावेश हुआ है। आज जो नए प्लेटफार्म और प्रोग्राम लॉन्च हुए हैं, वो इसी श्रृंखला को आगे बढ़ा रहे हैं।

मोदी ने कहा कि समय के साथ जो देश आधुनिक टेक्नोलॉजी को नहीं अपनाता, समय उसे पीछे छोड़कर आगे निकल जाता है। तीसरी औद्योगिक क्रांति के समय भारत इसका भुक्तभोगी रहा है। लेकिन आज हम ये गर्व से कह सकते हैं कि भारत चौथी औद्योगिक क्रांति, इंडस्ट्री 4.0 में दुनिया को दिशा दे रहा है। उन्होंने कहा कि सिर्फ 8-10 साल पहले की स्थितियों को याद कीजिए... Birth certificate लेने के लिए लाइन, बिल जमा करना है तो लाइन, राशन के लिए लाइन, एडमिशन के लिए लाइन, रिजल्ट और सर्टिफिकेट के लिए लाइन, बैंकों में लाइन, इतनी सारी लाइनों का समाधान भारत ने Online होकर किया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि DBT के माध्यम से बीते 8 साल में 23 लाख करोड़ रुपये से अधिक सीधे लाभार्थियों के बैंक खातों में भेजे गए हैं। इस टेक्नोलॉजी की वजह से करीब सवा 2 लाख करोड़ रुपये जो किसी और के हाथ में जाते थे, वो बच गए हैं। उन्होंने कहा कि गांव में सैंकड़ों सरकारी सेवाएं डिजिटली देने के लिए पिछले 8 वर्ष में 4 लाख से अधिक नए कॉमन सर्विस सेंटर जोड़े जा चुके हैं। आज गांव के लोग इन केंद्रों से डिजिटल इंडिया का लाभ ले रहे हैं।

पीएम  मोदी ने कहा कि बीते 8 वर्षों में डिजिटल इंडिया ने देश में जो सामर्थ्य पैदा किया है, उसने कोरोना वैश्विक महामारी से मुकाबला करने में भारत की बहुत मदद की है। अगर डिजिटल इंडिया अभियान न होता तो 100 साल में आये इस सबसे बड़े संकट के समय हम देश में क्या कर पाते? उन्होंने कहा कि हमनें देश की करोड़ों महिलाओं, किसानों, मजदूरों के बैंक खातों में एक क्लिक से हज़ारों करोड़ रुपये पहुंचा दिए। वन नेशन- वन राशन कार्ड की मदद से हमनें 80 करोड़ से अधिक देशवासियों को मुफ्त राशन सुनिश्चित किया।

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!