आगामी स्वतंत्रता दिवस के मौके पर नौसेना के बेडे़ में शामिल होगा INS विक्रांत, वाइस चीफ ने दी बड़ी अपडेट

Edited By rajesh kumar,Updated: 05 Jul, 2022 06:01 PM

indigenous aircraft carriers ready to be inducted vice navy chief

नौसेना की मारक क्षमता को कई गुना बढाने वाला स्वदेशी विमानवाहक पोत आईएनएस विक्रांत नौसेना के बेड़े में शामिल किये जाने के लिए पूरी तरह तैयार है और संभवत इसे आगामी स्वतंत्रता दिवस के मौके पर देश को समर्पित किया जायेगा।

 

नेशनल डेस्क: नौसेना की मारक क्षमता को कई गुना बढाने वाला स्वदेशी विमानवाहक पोत आईएनएस विक्रांत नौसेना के बेड़े में शामिल किये जाने के लिए पूरी तरह तैयार है और संभवत इसे आगामी स्वतंत्रा दिवस के मौके पर देश को समर्पित किया जायेगा। नौसेना उप प्रमुख वाइस एडमिरल एस एन घोरमड़े ने मंगलवार को यहां एक संवाददाता सम्मेलन में सवालों के जवाब में कहा कि स्वदेशी विमानवाहक पोत आईएनएस विक्रांत नौसेना के बेड़े में शामिल किये जाने के लिए पूरी तरह तैयार है और अगले महीने आजादी के अमृत महोत्सव के दौरान इसे नौसेना के बेड़े में शामिल कर लिया जायेगा।

सूत्रों के अनुसार खुद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी इस विमानवाहक पोत को देश को समर्पित करेंगे। आईएनएस विक्रांत के सभी तरह के जरूरी परीक्षण पूरे हो चुके हैं। इन परीक्षणों में यह पूरी तरह खरा उतरा है। वाइस एडमिरल घोरमड़े ने कहा कि आजादी के 75 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में मनाये जा रहे आजादी का अमृत महोत्सव के तहत नौसेना ने यह योजना बनायी है कि अगले एक वर्ष के दौरान 75 नयी स्वदेशी प्रौद्योगिकी और उत्पादों को विकसित कर नौसेना के बेड़े में शामिल किया जायेगा।

इसके लिए रक्षा नवाचार संगठन (डीआईओ) के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किये गये हैं। उन्होंने कहा कि इसी कड़ी में नौसेना डीआईओ के साथ मिलकर आगामी 18 और 19 जुलाई को स्वावलंबन नाम से दो दिन के सेमिनार का आयोजन कर रही है। इसमें रक्षा क्षेत्र में विशेष रूप से नौसेना के साजो सामान और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में आत्मनिर्भरता के लिए उद्योग जगत को 75 नये स्वदेशी उत्पाद या प्रौद्योगिकी के प्रस्ताव दिये जायेंगे। इस सेमिनार का उद्देश्य उद्योग जगत और शैक्षणिक जगत दोनों के परस्पर सहयोग से देश को रक्षा क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में तेजी से बढाने की दिशा में योजना बनाना है।

 

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!