Maharashtra Crisis: शिवसेना के बागी विधायकों के परिवार को मिलेगी CRPF सुरक्षा, केंद्र का ऐलान

Edited By Seema Sharma,Updated: 27 Jun, 2022 08:35 AM

maharashtra crisis family of rebel shiv sena mlas will get security

महाराष्ट्र में शिवसेना के कार्यकर्ताओं द्वारा बागी विधायकों के कार्यालयों में तोड़फोड़ के मद्देनजर राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने केंद्रीय गृह सचिव अजय कुमार भल्ला को पत्र लिखकर राज्य में केंद्रीय सुरक्षा बलों की पर्याप्त व्यवस्था करने का आग्रह किया...

नेशनल डेस्क: महाराष्ट्र में शिवसेना के कार्यकर्ताओं द्वारा बागी विधायकों के कार्यालयों में तोड़फोड़ के मद्देनजर राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने केंद्रीय गृह सचिव अजय कुमार भल्ला को पत्र लिखकर राज्य में केंद्रीय सुरक्षा बलों की पर्याप्त व्यवस्था करने का आग्रह किया है। उन्होंने आरोप लगाया कि कुछ बागी विधायकों के कार्यालयों और घरों में तोड़फोड़ के दौरान पुलिस ‘‘मूक दर्शक’’ बनी रही। पुलिस के एक अधिकारी ने रविवार को कहा कि कोश्यारी ने महाराष्ट्र के पुलिस महानिदेशक (DGP) रजनीश सेठ को बागी विधायकों के परिवारों और घरों को पर्याप्त पुलिस सुरक्षा मुहैया कराने के लिए कहा।

 

कोश्यारी ने 25 जून को लिखे अपने पत्र में कहा है कि उन्हें शिवसेना के 38 विधायकों, प्रहार जनशक्ति पार्टी के दो सदस्यों और सात निर्दलीय विधायकों से एक आवेदन मिला है जिसमें कहा गया है कि उनके परिवारों की पुलिस सुरक्षा ‘‘अवैध और गैर कानूनी तरीके से वापस ले ली गई है।’’ शिवसेना के कई विधायक पार्टी के वरिष्ठ मंत्री एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में गुवाहाटी में डेरा डाले हुए हैं, जो महा विकास आघाड़ी (MVA) से शिवसेना के बाहर निकलने की मांग समेत अन्य मुद्दे उठा रहे हैं। कोश्यारी ने पत्र में लिखा है, ‘‘उन्होंने कुछ राजनीतिक नेताओं द्वारा भड़काऊ और धमकी भरे बयानों के संदर्भ में अपने आवासों और परिवारों की सुरक्षा को लेकर भी गंभीर चिंता जताई है।’’

 

राज्यपाल ने कहा कि उन्होंने पहले ही राज्य पुलिस को विधायकों और उनके परिवारों को तत्काल पर्याप्त पुलिस सुरक्षा प्रदान करने के निर्देश जारी कर दिए हैं। पत्र में कहा गया, ‘‘इसके बावजूद कुछ विधायकों के कार्यालयों और आवासों में तोड़फोड़ की गई और पुलिस मूकदर्शक बनी हुई है। इसलिए यह आग्रह किया जाता है कि स्थिति से निपटने के लिए आवश्यक होने पर केंद्रीय सुरक्षा बलों की पर्याप्त व्यवस्था की जाए और उन्हें तैयार रखा जाए।’’

 

इससे पहले, अधिकारियों ने कहा कि कोविड​​-19 से उबरने के बाद रविवार को राज्यपाल को मुंबई के एक अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। राज्यपाल ने कहा, ‘‘अत: मैं आपको (डीजीपी) विधायकों, उनके परिवारों और घरों को तत्काल पर्याप्त पुलिस सुरक्षा मुहैया कराने का निर्देश देता हूं। मुझे इस संबंध में की गयी कार्रवाई से अवगत कराया जाए।’’ गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने रविवार को शिवसेना के कम से कम 15 बागी विधायकों को CRPF जवानों से लैस 'वाई प्लस' श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की।

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!