महाराष्ट्र राजनीतिक संकट: बागी विधायकों की क्या है नाराजगी की वजह? एकनाथ शिंदे ने लेटर कर किया खुलासा

Edited By Anu Malhotra, Updated: 23 Jun, 2022 01:47 PM

maharashtra political crisis eknath shinde shivsena uddhav thackeray

महाराष्ट्र में सियासी राजनीतिक संकट के बीच जहां शिवसेना विधायक बागी हो गए हैं वहीं सीएम उद्धव ठाकरे ने बीती रात सरकारी आवास ''वर्षा'' को खाली कर दिया था। वहीं अब इस बीच शिवसेना विधायक संजय शिरसाट ने सीएम उद्धव ठाकरे को एक चिट्ठी लिख नाराजगी की वजह...

नेशनल डेस्क: महाराष्ट्र में सियासी राजनीतिक संकट के बीच जहां शिवसेना विधायक बागी हो गए हैं वहीं सीएम उद्धव ठाकरे ने बीती रात सरकारी आवास 'वर्षा' को खाली कर दिया था। वहीं अब इस बीच शिवसेना विधायक संजय शिरसाट ने सीएम उद्धव ठाकरे को एक चिट्ठी लिख नाराजगी की वजह के बारे में बताया है।  

इस चिट्ठी को पार्टी के बागी खेमे के नेता एकनाथ शिंदे ने ट्विटर पर शेयर किया है। औरंगाबाद वेस्ट से शिवसेना विधायक संजय शिरसाट ने चिट्ठी में लिखा है कि पूरे देश ने विधानसभा परिषद का नतीजा देखा, आज तक हमें आपके दफ्तर में जाने का सौभाग्य नहीं मिला, हमारी कभी सुनवाई नहीं हुई।  वर्षा बंगले के बाहर बैठने के बाद कई बार निराश होकर बैठना पड़ा। हमारी परेशानियों को कभी आपने नहीं सुना, इतना ही नहीं आदित्य ठाकरे के साथ हमें अयोध्या जाने से रोका गया, हम उद्धव के सामने अपनी बात नहीं रख सकते थे।

संजय शिरसाट ने चिट्ठी में आरोप लगाया है कि हमें राम लला के दर्शन नहीं करने दिए गए, हमें मुख्यमंत्री के बंगले 'वर्षा' में प्रवेश नहीं मिलता था, कांग्रेस एनसीपी के लोग आराम से जाकर मिल लेते थे. पूरे देश ने विधानसभा परिषद का नतीजा देखा. विधानसभा क्षेत्र के लोग हमसे पूछते थे आप काम कैसे कर रहे हैं, उद्धव से मिल पाते हैं क्या, बालासाहेब और दीघे के विचार एकनाथ शिंदे के साथ, इसलिए हमने उनका साथ दिया।
 
वहीं,  बागी नेता एकनाथ शिंदे ने दावा किया है कि शिवसेना के कुल 55 में से 37 विधायक उनके साथ हैं। वहीं आज की शिवसेना मीटिंग में केवल 13 विधायक ही पहुंचे। 

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!