राहुल गांधी 3 दिवसीय दौरे पर पहुंचे केरल, हवाई अड्डे पर पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं ने किया जोरदार स्वागत

Edited By Anil dev,Updated: 01 Jul, 2022 11:46 AM

national news punjab kesari congress rahul gandhi lok sabha wayanad

कांग्रेस नेता राहुल गांधी अपने लोकसभा क्षेत्र वायनाड के तीन दिवसीय दौरे पर शुक्रवार को यहां पहुंचे, जहां वह किसान बैंक के भवन और यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (यूडीएफ) बहुजन संगमम के उद्घाटन सहित विभिन्न कार्यक्रमों में शामिल होंगे।

नेशनल डेस्क: कांग्रेस नेता राहुल गांधी अपने लोकसभा क्षेत्र वायनाड के तीन दिवसीय दौरे पर शुक्रवार को यहां पहुंचे, जहां वह किसान बैंक के भवन और यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (यूडीएफ) बहुजन संगमम के उद्घाटन सहित विभिन्न कार्यक्रमों में शामिल होंगे। तिरुवनंतपुरम में सत्तारूढ़ मार्क्सवादी कांग्रेस पार्टी (माकपा) के मुख्यालय एकेजी सेंटर पर कथित हमले को लेकर राज्य में तनाव के मद्देनजर गांधी की यात्रा के लिए व्यापक सुरक्षा इंतजाम किए गए हैं। सत्तारूढ़ वाम दल ने केंद्र पर ‘‘बम हमले'' के पीछे कांग्रेस की भूमिका का आरोप लगाया है। कन्नूर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर सुबह करीब साढ़े आठ बजे गांधी का विमान पहुंचा, जहां पार्टी की प्रदेश इकाई के प्रमुख के. सुधाकरन के नेतृत्व में कांग्रेस नेताओं ने गांधी की अगवानी की। 

पार्टी सूत्रों ने बताया कि कांग्रेस सांसद दोपहर करीब सवा 12 बजे वायनाड के मनंतवाडी पहुंचेंगे। सत्तारूढ़ माकपा की छात्र इकाई स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (एसएफआई) के कार्यकर्ताओं द्वारा वायनाड के कलपेट्टा में राहुल गांधी के कार्यालय में तोड़फोड़ करने के एक सप्ताह बाद वह अपने निर्वाचन क्षेत्र का दौरा कर रहे हैं। राहुल गांधी रविवार को कोझीकोड से दिल्ली लौटेंगे। एसएफआई ने जंगलों के आसपास पर्यावरण के लिए संवेदनशील क्षेत्र के मुद्दे को लेकर राहुल गांधी पर निष्क्रियता का आरोप लगाते हुए पिछले हफ्ते कलपेट्टा में विरोध मार्च निकाला था। 

यह प्रदर्शन उस वक्त हिंसक हो गया, जब कार्यकर्ताओं के एक समूह ने लोकसभा सदस्य के कार्यालय में कथित तौर पर प्रवेश किया और उसमें तोड़फोड़ की। कांग्रेस ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री पिनराई विजयन की जानकारी में वायनाड के सांसद कार्यालय में तोड़फोड़ की गई। कांग्रेस के नेतृत्व वाले यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (यूडीएफ) ने सोमवार को राज्य विधानसभा में इस मुद्दे को उठाते हुए सदन की कार्यवाही बाधित कर दी थी, जिसके कारण अध्यक्ष को सदन की कार्यवाही दिन भर के लिए स्थगित करनी पड़ी थी। मुख्यमंत्री ने कहा है कि माकपा में जिला स्तर से लेकर राज्य सचिवालय तक सभी ने हमले की निंदा की थी और एलडीएफ सरकार ने भी तत्काल कार्रवाई की तथा क्षेत्र के वरिष्ठ प्रभारी अधिकारी के निलंबन के साथ-साथ महिलाओं सहित एसएफआई कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार भी किया। 

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!