महाराष्ट्र में भारी बारिश की चेतावनी जारी, CM एकनाथ शिंदे ने दिए अधिकारियों को ये निर्देश

Edited By Anil dev,Updated: 05 Jul, 2022 01:50 PM

national news punjab kesari maharashtra rain imd orange alert

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के मंगलवार को महाराष्ट्र में अगले चार दिन तक भारी बारिश की चेतावनी जारी करने के बाद मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने राज्य प्रशासन के अधिकारियों को एहतियात बरतने और यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया कि जानमाल का कोई नुकसान...

नेशनल डेस्क: भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के मंगलवार को महाराष्ट्र में अगले चार दिन तक भारी बारिश की चेतावनी जारी करने के बाद मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने राज्य प्रशासन के अधिकारियों को एहतियात बरतने और यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया कि जानमाल का कोई नुकसान न हो। एक आधिकारिक बयान के अनुसार, मुंबई के पास स्थित रायगढ़ जिले में कुंडलिका नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। मुंबई और उसके कुछ पड़ोसी जिलों में मंगलवार सुबह भारी बारिश हुई और कुछ स्थानों पर बाढ़ जैसी स्थिति उत्पन्न हो गई। आईएमडी ने दक्षिण कोंकण क्षेत्र और गोवा के लिए ‘ऑरेंज अलर्ट' और उत्तरी कोंकण, उत्तर मध्य एवं दक्षिण मध्य महाराष्ट्र तथा मराठवाड़ा क्षेत्रों के लिए ‘येलो अलर्ट' जारी किया है। 

मौसम विभाग मौजूदा मौसम प्रणालियों के आधार पर चार रंग के ‘अलर्ट' जारी करता है। ‘ग्रीन अलर्ट' (कोई कार्रवाई की आवश्यकता नहीं), ‘येलो अलर्ट' (स्थिति पर नजर रखें), ‘ऑरेंज अलर्ट' (स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहें) और ‘रेड अलर्ट' (स्थिति से निपटने लिए कदम उठाएं)। आईएमडी के अनुसार, मराठवाड़ा क्षेत्र में आंधी, बिजली कड़कने, भारी बारिश के साथ 40 से 50 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलने के आसार हैं। मुख्यमंत्री कार्यालय ने एक बयान में कहा कि मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ठाणे, रायगढ़, पालघर, रत्नागिरी और सिंधुदुर्ग जिलों के कलेक्टर के साथ सम्पर्क में हैं। राष्ट्रीय आपदा मोचन बल से तैयार रहने को कहा गया है। बयान में कहा गया, ‘‘ मुंबई की स्थिति पर भी करीबी नजर रखी जा रही है।'' बयान के अनुसार, रायगढ़ जिले में कुंडलिका नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। 

अंबा, सावित्री, पातालगंगा, उल्हास और गढ़ी नदियों का जलस्तर खतरे के निशान से थोड़ा नीचे है। बयान के अनुसार, बढ़ती बारिश और बाढ़ जैसी स्थिति उत्पन्न होने के मद्देनजर मुख्यमंत्री शिंदे ने मुख्य सचिव मनु कुमार श्रीवास्तव के साथ बातचीत की। जिलों के प्रभारी (गार्जियन) सचिवों को अपने जिलों में पहुंचने और स्थिति पर नजर रखने के लिए कहा गया है। बयान में कहा गया, ‘‘ भारी बारिश और बाढ़ जैसी स्थिति को देखते हुए यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है कि किसी प्रकार की जानमाल की हानि न हो। मुख्यमंत्री कोंकण क्षेत्र के सभी जिला कलेक्टर के साथ सम्पर्क में हैं।'' बयान के अनुसार, जल संसाधन विभाग के अधिकारियों को भारी बारिश के मद्देनजर सतर्क रहने और एहतियात बरतने को कहा गया है। ठाणे, पालघर, रायगढ़, सिंधुदुर्ग, रत्नागिरी और कोल्हापुर जहां तेज बारिश हो रही है लोगों को बाढ़ आने के खतरे को लेकर आगाह कर दिया गया है। 

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!