Congress President Election: दिलचस्प हुई कांग्रेस अध्यक्ष पद की रेस, क्या दिग्विजय बनाम शशि थरूर होगा चुनाव?

Edited By Anil dev,Updated: 29 Sep, 2022 12:09 PM

national news punjab kesari rajasthan ashok gehlot digvijay singh

राजस्थान के ताजा सियासी घटनाक्रम के चलते अशोक गहलोत के कांग्रेस अध्यक्ष पद की उम्मीदवारी पर प्रश्न चिन्ह लग चुका है। ऐसे में पार्टी के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह की लॉटरी लगती दिख रही है। दिग्विजय वीरवार को कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए नामांकन दाखिल कर...

नेशनल डेस्क: राजस्थान के ताजा सियासी घटनाक्रम के चलते अशोक गहलोत के कांग्रेस अध्यक्ष पद की उम्मीदवारी पर प्रश्न चिन्ह लग चुका है। ऐसे में पार्टी के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह की लॉटरी लगती दिख रही है। दिग्विजय वीरवार को कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए नामांकन दाखिल कर सकते हैं। कांग्रेस अध्यक्ष का चुनाव लडऩे की इच्छा जता चुके लोकसभा सदस्य शशि थरूर 30 सितम्बर को नामांकन दाखिल करेंगे। ऐसे में कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव में दिग्विजय और थरूर में मुकाबला होने की संभावना है।  

वहीं, अपनी स्थिति पर सफाई पेश करने को गहलोत भी हाईकमान से मिलने देर रात दिल्ली पहुंच गए। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह का नाम ऐसे वक्त में उभर कर चर्चाओं में आया, जब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के समर्थक विधायकों की ओर से कथित रूप से हाईकमान के खिलाफ बगावत की बात सामने आई। गहलोत के समर्थक विधायकों ने राज्य में मुख्यमंत्री बदले जाने पर आपत्ति जताई थी। वहीं, जयपुर से दिल्ली पहुंचे गहलोत पार्टी हाईकमान से मिल कर अपनी स्थिति साफ करने की तैयारी में हैं। 

इसके बाद तय हो सकेगा कि वह कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ेंगे या इस दौड़ से बाहर हो जाएंगे। इस मुलाकात के बाद उनकी मुख्यमंत्री की कुर्सी पर भी फैसला हो जाएगा। गहलोत के दिल्ली रवाना होने से पहले कबीना मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास, विधानसभा अध्यक्ष सी.पी. जोशी, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा, मंत्री शांति धारीवाल और महेश जोशी उनसे मिलने मुख्यमंत्री आवास पहुंचे थे। मुख्यमंत्री से मुलाकात के बाद खाचरियावास ने जयपुर में संवाददाताओं को कहा कि मुख्यमंत्री नेतृत्व और संगठन के एक अभिभावक के तौर पर 102 विधायकों की भावना को व्यक्त करने के लिए दिल्ली जा रहे हैं। 

मुख्यमंत्री अभी इस्तीफा नहीं दे रहे हैं। उधर कांग्रेस की राजस्थान इकाई में पैदा हुए संकट के बीच पार्टी के वरिष्ठ नेता ए.के. एंटनी ने बुधवार को पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की। माना जा रहा है कि कांग्रेस अध्यक्ष ने राजस्थान संकट और अध्यक्ष पद के चुनाव को लेकर एंटनी के साथ चर्चा की है। वहीं कांग्रेस के लोकसभा सदस्य अब्दुल खालिक ने बुधवार को प्रियंका गांधी वाड्रा को पार्टी अध्यक्ष के चुनाव में उम्मीदवार बनाने की मांग उठाई और कहा कि वह सर्वश्रेष्ठ प्रत्याशी होंगी।  
 

Related Story

Trending Topics

New Zealand

India

Match will be start at 30 Nov,2022 08:30 AM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!