अब राष्‍ट्रपति चुनाव को लेकर शिवसेना में खलबली, शिंदे गुट ने किया मुर्मू को समर्थन का ऐलान

Edited By Anil dev,Updated: 07 Jul, 2022 11:46 AM

national news punjab kesarimaharashtra eknath shinde draupadi murmu

देश के राष्ट्रपति चुनाव में एनडीए ने आदिवासी चेहरे द्रौपदी मुर्मू को अपना उम्मीदवार बनाया है। ऐसे में एनडीए में शामिल दलों का समर्थन तो उन्हें मिल ही रहा है, साथ ही साथ अन्य दल भी आदिवासी चेहरे के चलते समर्थन कर रहे हैं। वहीं शिवसेना दो गुटों में से...

नेशनल डेस्क:  देश के राष्ट्रपति चुनाव में एनडीए ने आदिवासी चेहरे द्रौपदी मुर्मू को अपना उम्मीदवार बनाया है। ऐसे में एनडीए में शामिल दलों का समर्थन तो उन्हें मिल ही रहा है, साथ ही साथ अन्य दल भी आदिवासी चेहरे के चलते समर्थन कर रहे हैं। वहीं शिवसेना दो गुटों में से एकनाथ शिंदे गुट ने भी द्रोपदी मुर्मू को समर्थन करने का ऐलान किया है।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा कि यह गर्व की बात है कि आदिवासी समुदाय की सदस्य द्रौपदी मुर्मू को देश के राष्ट्रपति पद के लिए नामांकित किया गया है। शिंदे ठाणे जिलाधीश कार्यालय में बैठकें करने के बाद बुधवार को यहां पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। कुछ मीडियाकर्मियों ने उनसे शिवसेना के लोकसभा सांसद राहुल शेवाले के उस बयान के बारे में पूछा था, जिसमें शेवाले ने पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से पार्टी सांसदों को राजग प्रत्याशी मुर्मू के आदिवासी समुदाय से ताल्लुक होने तथा समाज में उनके योगदान पर विचार करते हुए उनका समर्थन करने के लिए निर्देश देने का अनुरोध किया था। 

शिंदे गुट के इस ऐलान के बाद शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे खेमे में स्थिति असहज हो गई है। दरअसल विपक्ष ने इस चुनाव में अपनी तरफ से यशवंत सिन्हा को अपना उम्मीदवार बनाया है। ऐसे में देखना यह होगा कि कांग्रेस और एनसीपी के साथ महाराष्ट्र में सरकार में शामिल रही उद्धव ठाकरे की अगुवाई वाली शिवसेना यशवंत सिन्हा को समर्थन करती है या द्रोपदी मुर्मू को।

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुर्मू को देश की राष्ट्रपति बनने का अवसर दिया है। यह गर्व और सम्मान की बात है। मुझे भी गर्व है कि आदिवासी समुदाय की एक सदस्य को इस पद के लिए नामांकित किया गया है।'' राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए मतदान 18 जुलाई को होगा तथा मतगणना 21 जुलाई को होगी। वर्तमान राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का कार्यकाल 24 जुलाई को समाप्त हो रहा है। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार के साथ अपनी एक तस्वीर सोशल मीडिया पर प्रसारित होने के बारे में पूछने पर शिंदे ने कहा कि उन्होंने हाल फिलहाल में पवार से मुलाकात नहीं की और यह तस्वीर हालिया वक्त की नहीं है। 

शिंदे ने कहा कि मुख्यमंत्री बनने के बाद वह पवार से नहीं मिले हैं। उन्होंने कहा ‘‘पवार राज्य और देश के एक बड़े नेता हैं तथा उनसे मुलाकात करने में गलत क्या है ?'' उन्होंने कहा, ‘‘मैं पहले उनसे कई बार मिला हूं। मुख्यमंत्री के तौर पर मैं उनसे कभी भी मुलाकात कर सकता हूं।'' शिंदे ने यह भी कहा कि ऐसी अफवाहें फैलायी गयीं कि उन्होंने मंगलवार को राकांपा नेता से मुलाकात की। शिंदे ने बुधवार को ट्वीट किया, ‘‘राकांपा प्रमुख शरद पवार के साथ मेरी तस्वीर प्रसारित की जा रही है। ऐसी कोई मुलाकात नहीं हुई। कृपया अफवाहों पर ध्यान न दें।'' 

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!