US में खुली IELTS स्कोरिंग की पोल, टॉप स्कोर पाने वाले छह भारतीय नहीं बोल पाए अंग्रेजी के दो शब्द

Edited By Anil dev,Updated: 03 Aug, 2022 01:16 PM

people reached us canada by doing fake ielts

गुजरात के गांधीनगर से हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है, जहां फर्जी IELTS करवारक विदेश भेजने का गोरखधंधा चलाया जाता था ।

 

नेशनल डेस्क : गुजरात के गांधीनगर से हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है, जहां फर्जी IELTS करवारक विदेश भेजने का गोरखधंधा चलाया जाता था । अमेरिका-कनाडा सरकार ने उस समय इस फर्जीबाड़े का खुलासा किया जब अमेरिकी कोर्ट में उच्च स्कोर होने के बावजूद भी भारतीय स्टूडेंटस अंग्रेजी के दो शब्दों में जवाब न दे सकें ।

पूछताछ के बाद पता लगा उच्च स्कोर प्राप्त करने के लिए 14 लाख रुपये की मोटी रकम वसूली गई थी। भारत सरकार ने IELTS परीक्षाओं की गड़बड़ी में राजकोट, वडोदरा, मेहसाणा, अहमदाबाद, नवसारी, नडियाद और आनंद के सात केंद्रों को जांच के घेरे में लिया है ।  

मेहसाणा पुलिस के स्पेशल ऑपरेशंस ग्रुप ने PTI से बातचीत में बताया कि अब तक की जांच से पता चला है कि परीक्षा कराने वाली एजेंसी ने पिछले साल सितंबर में हुई परीक्षा के दौरान हॉल के सीसीटीवी कैमरे बंद कर दिए गए थे । ऐसा करके बड़े पैमाने पर फर्जीवाड़ा किया जा रहा है ।

IELTS का यह फर्जीवाड़ा अमेरिकी अधिकारियों के सामने तब आया जब उन्होंने कनाडा से अवैध रूप से अमेरिकी सीमा में घुसते हुए 19-21 आयु वर्ग के 6 भारतीय युवकों को पकड़ा था । गिरफ्तार युवकों में से चार मेहसाणा, दो गांधीनगर व एक पटना से है । इन युवकों को जब कोर्ट में पेश किया गया तो वहां कोई भी अंग्रेजी में जवाब नहीं दे पाया जिसके बाद फर्जीवाड़े की जांच के निर्देश दिए गए थे ।

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!