ऑनलाइन घपलेबाजों पर जेएंडके पुलिस का शिकंजा, 30 लाख की नकदी बरामद

Edited By Monika Jamwal, Updated: 28 Jan, 2022 08:31 PM

police raids on online fraud in jammu kashmir

कश्मीर में साइबर पुलिस ने 30 लाख रूपये बरामद किये हैं जो ऑनलाइन घपलेबाजों द्वारा विदेशी मुद्रा में बदले जाने की प्रक्रिया में थे।

श्रीनगर : कश्मीर में साइबर पुलिस ने 30 लाख रूपये बरामद किये हैं जो ऑनलाइन घपलेबाजों द्वारा विदेशी मुद्रा में बदले जाने की प्रक्रिया में थे।

 

एक पुलिस अधिकारी ने यहां शुक्रवार को कहा, "साइबर थाना, कश्मीर को श्रीनगर के एक वरिष्ठ नागरिक से शिकायत मिली जिसमें कहा कि उनके बैंक खाते से धोखाधड़ी से 11 लाख रूपये निकाल लिये गये हैं और इनके संबंध में उन्हें कोई जानकारी नहीं है। इसके बाद साइबर पुलिस कश्मीर ने मामले की त्वरित ढंग से जांच की।"

 

उन्होंने कहा कि प्राथमिक जांच में सामने आया कि उक्त 11 लाख रूपये शिकायतकर्ता के रिश्तेदार के बैंक खाते में डाल दिये गये। इस रिश्तेदार ने बताया कि सोशल मीडिया साइटों पर वह इन घपलेबाजों के संपर्क में आया जिन्होंने उसे भारी रिटर्न के लिए ऑनलाइन ट्रेडिंग में निवेश करने एवं सीधे अपने बैंक खाते में रकम पाने के लिए उकसाया।

 

पुलिस के अनुसार उस रिश्तेदार ने यह भी बताया कि उसने इन 11 लाख के अलावा अपने पिता के बैंक खाते से भी 19 लाख रूपये निकाले और इस रकम को उसी ऑनलाइन ट्रेडिंग /निवेश में लगा दिया, जिसके परिणाम स्वरूप 30 लाख रूपये की भारी आर्थिक चपत लगी।

 

पुलिस प्रवक्ता ने कहा, "साइबर टीम ने तब इन विनिमयों का पता लगाने के लिए बैंक अधिकारियों से संपर्क किया जहां से खुलासा हुआ कि यह भारी -भरकम राशि यूपीआई और इंटरनेट बैंकिंग के माध्यम से विभिन्न ऑनलाइन भुगतान गेटवे में डाली गयी है । तब, इन विनिमयों का पता लगाने के लिए इन गेटवे अधिकारियों से संपर्क किया गया।"

 

उन्होंने कहा कि जांच दल विभिन्न ऑनलाइन भुगतान गेटवे में विनिमयों का पता लगाने में सफल रहा , जिसमें इस राशि का उपयोग विदेशी मुद्रा में तब्दील करने में किया जा रहा था। पुलिस के अनुसार इस काम को रोका गया एवं उस राशि को शिकायतकर्ता के बैंक खातों में डलवाया गया।


 

Related Story

Trending Topics

Indian Premier League
Gujarat Titans

Rajasthan Royals

Match will be start at 24 May,2022 07:30 PM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!