सड़क के बाद विधानसभा सत्र के दौरान सदन में उठाएंगे जनता के मुद्दे

Edited By Archna Sethi,Updated: 05 Aug, 2022 09:25 PM

public issues will be raised in the house

कांग्रेस पार्टी की तरफ से आज देशभर में महंगाई के खिलाफ हल्ला बोला गया। इसी कड़ी में पूर्व मुख्यमंत्री व नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा और प्रदेश अध्यक्ष चौधरी उदयभान के नेतृत्व में पार्टी के वरिष्ठ नेता, विधायकों और कार्यकर्ताओं ने जोरदार...

5 अगस्त, चंडीगढ़ः (अर्चना सेठी) कांग्रेस पार्टी की तरफ से आज देशभर में महंगाई के खिलाफ हल्ला बोला गया। इसी कड़ी में पूर्व मुख्यमंत्री व नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा और प्रदेश अध्यक्ष चौधरी उदयभान के नेतृत्व में पार्टी के वरिष्ठ नेता, विधायकों और कार्यकर्ताओं ने जोरदार प्रदर्शन किया। चंडीगढ़ स्थित हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मुख्यालय में इकट्ठा होकर कांग्रेस नेताओं ने राजभवन की तरफ घेराव के लिए मार्च किया। लेकिन तानाशाही रवैया अख्तियार करते हुए पुलिस ने बैरिकेडिंग कर मार्च को रास्ते में ही रोक दिया और सभी नेताओं को हिरासत में ले लिया। 

 

इस मौके पर भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि आज महंगाई और बेरोजगारी से हर व्यक्ति परेशान हैं। गरीब और मध्यम वर्ग के लोगों का जीना दूभर हो गया है। हरियाणा में पूरे देश के मुकाबले बेरोजगारी और महंगाई सबसे ज्यादा है। ऐसे में जनता की आवाज को बुलंद करने के लिए विपक्ष ने सड़कों पर उतरने का फैसला लिया है। कांग्रेस की मांग है कि केंद्र सरकार जीएसटी में संशोधन और प्रदेश सरकार वैट की दरों में कटौती करके जनता को राहत देने का काम करे।  हुड्डा ने अग्निवीर योजना, बुजुर्गों की पेंशन कटौती और प्रदेश में बढ़ते अपराध का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि जनविरोधी फैसलों के खिलाफ कांग्रेस का संघर्ष जारी रहेगा। सड़क ही नहीं आने वाले विधानसभा सत्र के दौरान सदन में भी आमजन के मुद्दो को उठाया जाएगा। 

 

प्रदेश अध्यक्ष चौधरी उदयभान ने इस मौके पर कहा कि बीजेपी सरकार तानाशाही पर उतारू हो गई है। उसने देश में अघोषित इमरजेंसी लगा दी है। आज पेट्रोल-डीजल, सीएनजी, पीएनजी, एलपीजी के दाम बेहताशा दाम बढ़ रहे हैं। आटा, घी, पनीर, दूध, छाछ तक पर जीएसटी थोप दी गई है। महंगाई लगातार बढ़ रही है और लोगों की आय घटती जा रही है। क्योंकि आज बेरोजगारी अपने चरम पर है। लेकिन सरकार किसी भी मुद्दे पर चर्चा करने के लिए तैयार नहीं है। अग्निपथ योजना से लेकर संवैधानिक संस्थाओं के दुरुपयोग तक, हर मुद्दे पर सरकार जवाब देने से बच रही है। कांग्रेस के प्रदर्शन को रोकने के लिए सरकार ने सभी दफ्तरों को सील कर दिया। विपक्ष की आवाज को सदन और सड़क दोनों जगह दबाने की कोशिश हो रही है। सरकार ने संवैधानिक संस्थाओं का मजाक बनाकर रख दिया है। लेकिन लोकतंत्र बचाने के इस आंदोलन को कांग्रेस कमजोर नहीं होने देगी। सरकार की तानाशाही के खिलाफ यह आंदोलन जारी रहेगा।  

 

कांग्रेस के हल्ला बोल प्रदर्शन के दौरान आज भूपेंद्र सिंह हुड्डा और चौधरी उदयभान के साथ कार्यकारी अध्यक्ष जितेंद्र भारद्वाज, रामकिशन गुज्जर, वरिष्ठ नेता अशोक अरोड़ा, विधायक रघुबीर कादियान, गीता भुक्कल, आफताब अहमद, शमशेर गोगी, मेवा सिंह, वरुण मुलाना, सुरेंद्र पवार, प्रदीप चौधरी, बिशन लाल सैनी, मोहम्मद इलियास, जगबीर मलिक, सुभाष देशवाल, जयवीर वाल्मीकि, रेनू बाला, राव दान सिंह, बलबीर वाल्मीकि, इंदुराज नरवाल, सुभाष चौधरी, सुधा भारद्वाज, चांदवीर हुड्डा, पवन जैन, अशोक मेहता, अब्दुल गफ्फार कुरेशी, समेत सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने गिरफ्तारी दी।

 

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!