सीनियर वकील मुकुल रोहतगी का अटॉर्नी जनरल बनने से किया इनकार, केंद्र के प्रस्ताव को ठुकराया

Edited By Yaspal,Updated: 25 Sep, 2022 10:07 PM

senior advocate mukul rohatgi refuses to become attorney general

वरिष्ठ अधिवक्ता मुकुल रोहतगी ने रविवार को कहा कि उन्होंने भारत का अगला अटॉर्नी जनरल बनने के केंद्र सरकार के प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया है। रोहतगी ने पीटीआई-भाषा से कहा कि उनके फैसले के पीछे कोई खास वजह नहीं है

नेशनल डेस्कः वरिष्ठ अधिवक्ता मुकुल रोहतगी ने रविवार को कहा कि उन्होंने भारत का अगला अटॉर्नी जनरल बनने के केंद्र सरकार के प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया है। रोहतगी ने पीटीआई-भाषा से कहा कि उनके फैसले के पीछे कोई खास वजह नहीं है। केंद्र ने के.के. वेणुगोपाल (91) की जगह लेने के लिए इस महीने की शुरुआत में रोहतगी को अटॉर्नी जनरल पद की पेशकश की थी। वेणुगोपाल का कार्यकाल 30 सितंबर को समाप्त होगा। रोहतगी जून 2014 से जून 2017 तक अटॉर्नी जनरल थे। उनके बाद वेणुगोपाल को जुलाई 2017 में इस पद पर नियुक्त किया गया था।

Related Story

Trending Topics

New Zealand

India

Match will be start at 30 Nov,2022 08:30 AM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!