कांग्रेस के चिंतन शिविर का आज दूसरा दिन: सोनिया ने महासचिवों, प्रभारियों और प्रदेश अध्यक्षों के साथ बैठक की

Edited By rajesh kumar,Updated: 14 May, 2022 01:46 PM

sonia held meeting with general secretaries in charges state presidents

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पार्टी के चिंतन शिविर के दूसरे दिन शनिवार को यहां पार्टी महासचिवों, प्रदेश प्रभारियों, प्रदेश इकाई के अध्यक्षों, विधायक दल के नेताओं और कई अन्य वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठक की।

नेशनल डेस्क: कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पार्टी के चिंतन शिविर के दूसरे दिन शनिवार को यहां पार्टी महासचिवों, प्रदेश प्रभारियों, प्रदेश इकाई के अध्यक्षों, विधायक दल के नेताओं और कई अन्य वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठक की। सूत्रों का कहना है कि इस बैठक में, चिंतन शिविर में विभिन्न विषयों पर हुई अब तक की चर्चा और संगठन को मजबूत बनाने को लेकर मंथन किया गया। 
 

Interim Congress president Sonia Gandhi presides over a meeting of AICC General Sectaries, In-charges, PCC Presidents & CLPs at the party's Chintan Shivir in Udaipur, Rajasthan. pic.twitter.com/yGZ2sAhHOZ

— ANI MP/CG/Rajasthan (@ANI_MP_CG_RJ) May 14, 2022


किसी भी नेता को राज्यसभा का दो या उससे अधिक का कार्यकाल न मिले
इस बैठक में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा, संगठन महासचिव के.सी. वेणुगोपाल, वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह और कई अन्य नेता मौजूद थे। शिविर के पहले दिन शुक्रवार को सोनिया गांधी ने कांग्रेस में आमूलचूल बदलाव की पैरवी करते हुए कहा था कि असाधारण परिस्थितियों का मुकाबला असाधारण तरीके से किया जाता है। उदयपुर में चल रहे इस चिंतन शिविर में कांग्रेस नेताओं ने पार्टी आलाकमान के सामने कई प्रस्ताव रखे। पार्टी नेताओं का कहना है कि किसी भी लीडर को राज्यसभा का दो या उससे अधिक का कार्यकाल नहीं मिलना चाहिए। इसके बाद ही लोकसभा या विधानसभा का चुनाव लड़ने के लिए आगे आएंगे। लेकिन, उन्हें राज्यसभा में तीसरी बार जाने का अवसर नहीं मिलना चाहिए। कांग्रेस आलाकमान इस पर क्या फैसला लेता यह देखनी वाली है।

‘एक परिवार, एक टिकट' की व्यवस्था 
अक्सर ‘परिवारवाद' के आरोपों का सामना करने वाली कांग्रेस अब "एक परिवार, एक टिकट" की व्यवस्था बनाने पर विचार कर रही है। पार्टी महासचिव अजय माकन के अनुसार, चिंतन शिविर में चर्चा के लिए ‘एक परिवार, एक टिकट' का प्रस्ताव आया है। उन्होंने ‘नवसंकल्प चिंतन शिविर' के आरंभ होने से पहले कहा कि कांग्रेस ‘बड़े बदलाव' की ओर देख रही है और इसके तहत संगठन की विभिन्न समितियों में युवाओं के लिए 50 प्रतिशत जगह आरक्षित करने, स्थानीय स्तर पर मंडल समितियां बनाने, पदाधिकारियों के कामकाज की समीक्षा के लिए एक आकलन इकाई बनाने और एक पद पर किसी व्यक्ति के लगातार पांच साल से ज्यादा नहीं रहने की व्यवस्था तय करने के प्रस्तावों पर विचार किया जाएगा।

पहले अपना घर ठीक करेंगे, फिर होगी गठबंधन की बात- खड़गे
कांग्रेस ने शुक्रवार को कहा कि वह पहले अपने घर को व्यवस्थित करेगी और फिर दूसरे दलों के साथ गठबंधन को लेकर बात करेगी। पार्टी के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने पार्टी के चिंतन शिविर के आरंभ होने से पहले यह भी कहा कि कांग्रेस नेता पार्टी की ‘कमियों' पर मंथन करेंगे और पार्टी को मजबूत बनाने पर जोर दिया जाएगा। भाजपा के खिलाफ गठबंधन की संभावना पर उन्होंने कहा, ‘‘पहले तो हम स्वयं मजबूत बनना चाहते हैं। हम अपने घर को सही ढंग से व्यवस्थित करना चाहते हैं। हम कांग्रेस को बहुत अधिक सक्रिय और शक्तिशाली बनाना चाहते हैं। फिर गठबंधन की बात करेंगे।'' उन्होंने कहा ‘‘अगर आपका अपना कोई निवेश नहीं होगा, तो कौन सा साझेदार आकर कहेगा कि वह आपके साथ पैसे का निवेश करेगा।'

 

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!