जोधपुर हिंसा पर तनाव: पुलिस ने 3 लोगों को हिरासत में लिया...4 मई की आधी रात तक कर्फ्यू लागू

Edited By Seema Sharma, Updated: 03 May, 2022 03:24 PM

tension over jodhpur violence police detains 3 people

ईद से कुछ घंटे पहले राजस्थान के जोधपुर शहर में सोमवार देर रात सांप्रदायिक तनाव पैदा हो गया और इस दौरान पथराव में पांच पुलिसकर्मी घायल हो गए। पुलिस ने इसकी जानकारी दी।

नेशनल डेस्क: ईद से कुछ घंटे पहले राजस्थान के जोधपुर शहर में सोमवार देर रात सांप्रदायिक तनाव पैदा हो गया और इस दौरान पथराव में पांच पुलिसकर्मी घायल हो गए। जोधपुर शहर में सांप्रदायिक तनाव के बाद मंगलवार को 10 थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लगा दिया गया। इस बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लोगों से शांति और सद्भाव बनाए रखने की अपील की तथा उच्च स्तरीय बैठक के बाद हालात पर काबू पाने के लिए गृह राज्यमंत्री राजेंद्र यादव सहित आला अधिकारियों को तत्काल जोधपुर जाने के निर्देश दिए। 

 

क्या है विवाद
प्राप्त जानकारी के अनुसार इस विवाद की शुरुआत सोमवार आधी रात के बाद हुई जब अल्पसंख्यक समुदाय के कुछ लोग ईद पर जालोरी गेट के पास एक चौराहे पर धार्मिक झंडे लगा रहे थे, इन लोगों ने चौराहे में स्थापित स्वतंत्रता सेनानी बालमुकुंद बिस्सा की प्रतिमा पर झंडा लगाया जिसका हिंदू समुदाय के लोगों ने विरोध किया। प्राप्त जानकारी के अनुसार हिंदू समुदाय के लोगों ने आरोप लगाया कि वहां परशुराम जयंती पर लगाए गए ध्वज को हटाकर इस्लामी ध्वज लगाया गया, इसको लेकर दोनों समुदाय के लोग आमने सामने आ गए और झड़प हो गई। पुलिस नियंत्रण कक्ष के अनुसार स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पुलिस मौके पर पहुंची लेकिन पथराव में पांच पुलिसकर्मी घायल हो गए। पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले दागे। अफवाहों को फैलने से रोकने के लिए इलाके में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं भी बंद कर दी गई हैं। हालात काबू में कर लिए गए और मंगलवार सुबह जालोरी गेट के पास ईदगाह पर ईद की नमाज अदा की गई, लेकिन नमाज के बाद कुछ लोगों ने वहां खड़े वाहनों पर पथराव किया। इसमें कुछ वाहन क्षतिग्रस्त हो गए। 

 

4 मई आधी रात तक कर्फ्यू लागू
हालात पर काबू पाने के लिए जोधपुर के कार्यपालक मजिस्ट्रेट राजकुमार चौधरी ने शहर के दस थाना क्षेत्रों, उदयमंदिर, सदर कोतवाली, सदर बाजार, नागोरी गेट, खांडा फलसा, प्रतापनगर, प्रतापनगर सदर, देवनगर, सूरसागर व सरदारपुरा में मंगलवार (3 मई) दोपहर एक बजे से बुधवार (4 मई) मध्यरात्रि तक कर्फ्यू लगाने के आदेश जारी किए। 

 

हंगामा जारी
जोधपुर हिंसा को देखते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने जन्मदिन पर आयोजित सारे कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं। मुख्यमंत्री ने जोधपुर में लॉ एंड ऑर्डर की व्यवस्था को लेकर डीजीपी और वरिष्ठ अधिकारियों को अर्जेन्ट उच्च स्तरीय मीटिंग बुलाई है। तनाव को देखते हुए जोधपुर में सभी बाजार बंद हैं। मौके पर आरएसी की कंपनी भी तैनात की गई है। फिलहाल जोधपुर में तनाव की स्थिति है। जालोरी गेट पर हालत शांत हैं पर जोधपुर में अन्य स्थानों पर नारेबाजी और हंगामा जारी है। गजेंद्र सिंह शेखावत जोधपुर में मौजूद हैं और निरंतर लोगों से शांति की अपील कर रहे हैं। लोगों ने गहलोत सरकार पर नाराजगी जताई की कि वे एक पक्ष का बचाव कर रहे हैं।

 

भाजपा ने मांगा गहलोत का इस्तीफा
राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने मामले को लेकर ट्वीट किया, कांग्रेस राज में औरंगजेबी मानसिकता किस तरह हावी हो गई है, यह जोधपुर की घटना से साफ पता चलता है। केंद्रीय मंत्री अर्जुन मेघवाल ने भी गहलोत सरकार पर तुष्टिकरण की राजनीति करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि प्रदेश के करौली, अलवर और जालौरी गेट, जोधपुर सहित पूरे प्रदेश में हो रही घटनाओं से प्रदेश के सांप्रदायिक सोहार्द बिगड़ने की घटनाएं निंदाजनक है। उन्होंने कहा कि गृह विभाग के मुखिया अशोक गहलोत जी को अपने पद से तुरंत इस्तीफा दे देना चाहिए।

Related Story

Test Innings
England

284/10

378/3

India

416/10

245/10

England win by 7 wickets

RR 4.63
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!