भारत के अतीत, वर्तमान के लिए प्रतिबद्धता और भविष्य के सपनों को झलकाता है तिरंगा: PM मोदी

Edited By Pardeep,Updated: 10 Aug, 2022 11:38 PM

tricolor reflects india s past commitment to present and dreams of the future

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को राष्ट्रीय ध्वज को भारत के अतीत के गौरव, वर्तमान के लिए प्रतिबद्धता और भविष्य के सपनों का प्रतिबिंब बताया। उन्होंने कहा कि तिरंगा देश की एकता, अखंडता और विविधता का प्रतीक है। सूरत में एक तिरंगा

सूरतः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को राष्ट्रीय ध्वज को भारत के अतीत के गौरव, वर्तमान के लिए प्रतिबद्धता और भविष्य के सपनों का प्रतिबिंब बताया। उन्होंने कहा कि तिरंगा देश की एकता, अखंडता और विविधता का प्रतीक है। सूरत में एक तिरंगा यात्रा को वीडियो कॉन्फ्रेंस से संबोधित करते हुए उन्होंने यह भी कहा कि तिरंगा देश के वस्त्र उद्योग, खादी और आत्म-निर्भरता का प्रतीक रहा है और सूरत ने इस क्षेत्र में एक आत्म-निर्भर भारत के लिए बुनियाद तैयार की है। 

मोदी ने कहा, ‘‘भारत के तिरंगे में केवल तीन रंग नहीं हैं, बल्कि हमारा तिंरगा हमारे अतीत के गौरव, वर्तमान के लिए हमारी प्रतिबद्धता और भविष्य के हमारे सपनों का प्रतिबिंब है। हमारा तिरंगा भारत की एकता, अखंडता और विविधता का प्रतीक है।''

प्रधानमंत्री ने कहा कि गुजरात ने बापू (महात्मा गांधी) के रूप में देश के स्वतंत्रता संघर्ष का नेतृत्व किया और देश को लौह पुरुष सरदार पटेल जैसे व्यक्तित्व दिये जिन्होंने आजादी के बाद ‘एक भारत, श्रेष्ठ भारत' की आधारशिला रखी। उन्होंने कहा कि बारदोली सत्याग्रह और दांडी यात्रा ने जो संदेश दिया उससे पूरा देश संगठित हो गया। 

उन्होंने कहा, ‘‘हमारे स्वतंत्रता सेनानियों ने तिरंगे में देश का भविष्य, उसके सपने देखे थे और उन्होंने इसे कभी किसी भी तरह झुकने नहीं दिया। आज जब हम आजादी के 75 साल बाद नये भारत की यात्रा शुरू कर रहे हैं तो तिरंगा एकबार फिर भारत की एकता और चेतना को प्रतिबिंबित कर रहा है।'' मोदी ने कहा कि गुजरात का हर कोना उत्साह से भरा है और सूरत ने इसके वैभव को और बढ़ाया है। 

Related Story

Trending Topics

India

South Africa

Match will be start at 02 Oct,2022 08:30 PM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!