मातोश्री में उद्धव-पवार की बैठक जारी, महाराष्ट्र संकट पर हो रहा महामंथन

Edited By Yaspal,Updated: 24 Jun, 2022 07:18 PM

uddhav pawar meeting continues in matoshree mahamanthan on maharashtra crisis

शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे की बगावत से उपजे राजनीतिक संकट के बीच राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) अध्यक्ष शरद पवार ने शुक्रवार शाम महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से यहां उनके आवास पर मुलाकात की। पवार के साथ राकांपा की राज्य इकाई के अध्यक्ष...

नेशनल डेस्कः शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे की बगावत से उपजे राजनीतिक संकट के बीच राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) अध्यक्ष शरद पवार ने शुक्रवार शाम महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से यहां उनके आवास पर मुलाकात की। पवार के साथ राकांपा की राज्य इकाई के अध्यक्ष जयंत पाटिल और उपमुख्यमंत्री अजित पवार बांद्रा इलाके में स्थित ठाकरे के निजी आवास ‘मातोश्री' पहुंचे। एक दिन पहले, अजित पवार ने कहा था कि उनकी पार्टी शिवसेना, राकांपा और कांग्रेस के सत्तारूढ़ गठबंधन को बचाने के लिए हरसंभव कोशिश करेगी। शरद पवार ने स्पष्ट कर दिया था कि गठबंधन सरकार की किस्मत का फैसला महाराष्ट्र विधानसभा में होगा, न कि गुवाहाटी के किसी होटल में, जहां शिंदे और उनके समर्थक डेरा डाले हुए हैं।

वहीं, सूत्रों से खबर निकलकर सामने आ रही है कि शरद पवार उद्धव ठाकरे को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने की सलाह दे सकते हैं। एनसीपी के सूत्रों की माने तो मामला लंबा खिंचने से एमवीए सरकार को बड़े नुकसान की आशंका है। सूत्रों ने बताया कि अगर मामला लंबा खिंचता है विधानसभा में बहुमत परीक्षण की नौबत सआ सकती है। ऐसे में शिंदे गुट के पास अभी बहुमत है और यह संख्याबल लगातार बढ़ता जा रहा है। एनसीपी ठाकरे को आंकड़े को स्वीकार करने को कह सकती है।

उल्लेखनीय है कि उद्धव ठाकरे ने बुधवार शाम को सीएम आवास 'वर्षा' को खाली कर दिया था। सीएम आवास खाली करने से पहले उन्होंने फेसबुक पर आकर संबोधन दिया, जिसमें उन्होंने शिवसेना के बागी विधायकों से अपील की थी कि अगर कोई शिकायत है तो मुझसे आकर मिले। अगर एक विधायक भी सीएम पद से हटने के लिए बोलता है तो मैं पद से इस्तीफा दे दूंगा। मुझे पद का लालच नहीं है। उन्होंने कहा था कि सबको पता है 2019 का चुनाव हमने किन हालातों में लड़ा था।

बताते चलें कि विधान परिषद के रिजल्ट आने के बाद एकाएक शिवसेना गुट के 30 विधायक सूरत पहुंच गए थे। उनके साथ उद्धव के करीबी एकनाथ शिंदे भी थे। विधान परिषद में शिवसेना के विधायकों ने बीजेपी के पक्ष में क्रॉस वोटिंग भी की थी।  

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!