महाराष्ट्र: बगावत के बाद उद्धव ठाकरे ने जीती पहली लड़ाई, भाजपा को लगा झटका

Edited By Seema Sharma,Updated: 05 Aug, 2022 02:02 PM

uddhav thackeray gains in general elections in gram panchayats

महाराष्ट्र में सरकार गिरने के बाद गुरुवार को 15 जिलों की 238 ग्राम पंचायतों में आम चुनाव के लिए मतदान हुआ। शुक्रवार को चुनावों के नतीजे घोषित किए गए।

नेशनल डेस्क: महाराष्ट्र में सरकार गिरने के बाद गुरुवार को 15 जिलों की 238 ग्राम पंचायतों में आम चुनाव के लिए मतदान हुआ। शुक्रवार को चुनावों के नतीजे घोषित किए गए। शुरुआती रुझानों में सोलापुर जिले की दो ग्राम पंचायतों के चुनाव भाजपा को झटका लगा है। सोलापुर की चिंचपुर ग्राम पंचायत में शिवसेना के उद्धव ठाकरे के खेमे के सभी उम्मीदवारों ने जीत हासिल की है।

 

यहां शिवसेना के 7 में से 7 उम्मीदवारों ने जीत हासिल की है। वहीं दक्षिण सोलापुर तालुका की मंगोली ग्राम पंचायत में भाजपा के सुभाष देशमुख को बड़ा झटका लगा है। मंगोली ग्राम पंचायत में पिछले 15 साल से सुभाष देशमुख गुट सत्ता में था। हालांकि इस साल मंगोली ग्राम पंचायत की छह में से एक सीट सुभाष देशमुख पैनल के प्रत्याशी ने जीती है।

 

औरंगाबाद में बागी विधायकों की धूम

मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में शिवसेना के 40 विधायकों ने बगावत की और पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे को झटका दिया था। इसके बाद आदित्य ठाकरे ने औरंगाबाद में वफादारी यात्रा निकाली थी, जिसके बाद कयास लगाए जा रहे थे कि बागी विधायकों का वर्चस्व हिलेगा, हालांकि ग्राम पंचायत चुनाव में ये बागी अपने गढ़ को सुरक्षित रखने में सफल रहे।

 

7 में से 6 ग्राम पंचायतों पर शिंदे गुट का कब्जा

औरंगबाद के पाठक तालुका से विधायक संदीपन भुमरे के एकनाथ शिंदे के समूह ने 7 ग्राम पंचायतों में से 6 में जीत हासिल की है। दूसरी ओर यह पता चला है कि शिंदे समूह के विधायक अब्दुल सत्तार का सिल्लोड तालुका में जंजाला और नानेगांव दोनों ग्राम पंचायतों पर हावी होना जारी है।

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!