'हर-हर शंभू' गाने वाली सिंगर फरमानी नाज से उलेमा खफा, शरिया कानून इसकी इजाजत नहीं

Edited By Seema Sharma,Updated: 02 Aug, 2022 10:39 AM

ulema angry with singer farmani naaz for singing har har shambhu

यूट्यूब चैनल पर 'हर हर शंभू' के गाने को लेकर चर्चा में आईं इंडियन आइडल फेम फरमानी नाज का कुछ मुस्लिम धर्मगुरुओं ने विरोध किया तो अब कुछ उसके समर्थन में उतर आए हैं।

नेशनल डेस्क: यूट्यूब चैनल पर 'हर हर शंभू' के गाने को लेकर चर्चा में आईं इंडियन आइडल फेम फरमानी नाज का कुछ मुस्लिम धर्मगुरुओं ने विरोध किया तो अब कुछ उसके समर्थन में उतर आए हैं। दरअसल फरमानी नाज को नसीहत देते हुए मुस्लिम उलेमा ने 'हर हर शंभू' गाने को 'इस्लाम के खिलाफ' बताया। उत्तर प्रदेश के देवबंद में मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के जिला संयोजक राव मुशर्रफ अली ने कहा कि हम उनके भजन उनके गाने का समर्थन करते हैं और मुस्लिम राष्ट्रीय मंच जल्द ही फरमानी नाज को सम्मानित करेगा।

 

वहीं मुस्लिम उलेमा के विरोध पर फरमानी नाज ने कहा कि तब ये लोग कहां था जब मेरे पति ने मुझे बिना तलाक दिए छोड़ दिया। ससुराल वालों ने मुझे बेटे के साथ घर से निकाल दिया। नाज ने कहा कि मैं किसी धर्म का अपमान नहीं कर रही हूं, अपनी गायकी से अपनी अलग पहचान बना रही हूं। बता दें कि फरमानी नाज 2020 में इंडियन आइडल में दिखीं थीं। हाल ही में फरमानी ने कांवड़ यात्रा के दौरान 'हर हर शंभू' भजन गाया था जो काफी फेमस हुआ।

 

देवबंदी उलेमा ने नाज को नसीहत देते हुए कहा कि इस्लाम में किसी भी तरह का गाना नहीं गाना चाहिए, यह इस्लाम के खिलाफ है। देवबंद स्थित मौलवी मुफ्ती असद कासमी ने कहा कि शरिया कानून के तहत गाने की इजाजत नहीं है।

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!