कोरोना के कहर को कम होता देख CM गहलोत ने दिए लॉकडाउन के नियमों में राहत के आदेश

Edited By Chandan, Updated: 19 Jan, 2021 02:42 PM

rajasthan ashok gehlot lockdown guidelines coronavirus sobhnt

देश में केंद्र सरकार की मंजूरी मिलने के बाद राज्य सरकारों ने अपने-अपने राज्यों में कोरोना की वैक्सीन लगवाना शुरु कर दिया है। देश के अलग-अलग राज्यों के साथ राजस्थान में भी कोरोना वैक्सीन के टीके लगने शुरु हो गए हैं। ऐसे में राज्य के मुख्यमंत्री अशोक...

जयपुर/ ब्यूरो। देश में केंद्र सरकार की मंजूरी मिलने के बाद राज्य सरकारों ने अपने-अपने राज्यों में कोरोना की वैक्सीन लगवाना शुरु कर दिया है। देश के अलग-अलग राज्यों के साथ राजस्थान में भी कोरोना वैक्सीन के टीके लगने शुरु हो गए हैं। ऐसे में राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रदेश में एक बार फिर से कोरोना की समीक्षा कर लॉकडाउन से लोगों को राहत प्रदान की है। राज्य सरकार ने प्रदेश के 13 जिलों से रात्रि कर्फ्यू को हटा लिया है। सरकार ने इसके अलावा बाजार को शाम सात बजे बंद करने की बाध्यता को भी समाप्त कर दिया है।

 

राज्य में कोरोना की स्थिति का जायजा लिया
सरकार ने राज्य में होने वाले धार्मिक, सामाजिक और राजनीतिक आयोजन के लिए पूर्व में ली जाने वाली अनुमति के नियम में भी राहत देते हुए अब सरकार को बस सूचना देने की बात कही है। इसके लिए जिलाधिकारी को सूचना देनी होगी। बता दें गहलोत ने वीडियो काॉफ्रेंसिंग के जरिए पूरे राज्य में कोरोना की स्थिति का जायजा लिया था। मुख्यमंत्री ने यह आदेश नागरिकों के फीडबैक के आधार पर लिया है।  

 

गहलोत ने की प्रेस कांफ्रेंस
मुख्यमंत्री की प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद गृह विभाग ने गाइडलाइन जारी करते हुए कहा  कि कंटेनमेंट जोन में लॉकडाउन 31 जनवरी तक जारी रहेगा। सरकार इसके अलावा जानकारी दी है कि अभी लॉकडाउन में राज्य मे सिनेमाघर और मल्टीप्लेक्स को बंद रखा जाएगा। इसके अलावा अभी दुकानों नो मास्क नो सर्विस के नियम का अनुसरण किया जाएगा। सरकार ने लोगों को चेतावनी दी है कि कुछ गिनों में कोरोना के नए मामलों में कुछ कमी आई है इसलिए यह राहत दी जा रही है। अगर नागरिक दोबारा से गलतियां करेंगे तो सरकार फिर से सख्ती कर देगी। 

 

इन रोगों को किया शामिल
सरकार ने राज्य में केसों में सुधार होता देख निजी अस्पतालों व लैब में आरटी-पीसीआर जांच की दर को 800 से घटाकर 500 कर दिया है। इसके अलावा सरकार ने कोरोना और हीमोडायलिसिस जैसे रोगों को आयुष्मान भारत, महात्मा गांधी राजस्थान  स्वास्थ्य बीमा योजना के पैकेज की सूची में शामिल किया है। ताकि लोगों को इन बीमारियों का खर्चा न उठाना पड़े। सरकार ने यह भी बताया है कि इसके बाद उस पर सालाना 41 करोड़ का अतिरक्त भार आने वाला है।  गौरतलब है कि प्रदेश में सोमवार को प्राप्त हुए आंकड़ों के आधार पर 213 नए मामले सामने आए हैं। प्रदेश में कोविड से अभी तक 2750 लोगों की मौत हो चुकी है साथ ही साथ 3 लाख 15 हजार 934 अभी तक कोरोना के मामले सामने आए हैं। राज्य में पिछले कुछ दिनों में रिकवरी रेट बढ़कर 96.58 प्रतिशत से 97.53 प्रतिशत तक पहुंचा है। 

Related Story

Trending Topics

Indian Premier League
Gujarat Titans

Rajasthan Royals

42/1

5.0

Rajasthan Royals are 42 for 1 with 15.0 overs left

RR 8.40
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!