रिलायंस इंडस्ट्रीज का दूसरी तिमाही में शुद्ध लाभ 43 फीसदी बढ़कर 13,680 करोड़ रुपये

Edited By PTI News Agency, Updated: 23 Oct, 2021 09:33 AM

pti state story

नयी दिल्ली, 22 अक्टूबर (भाषा) रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिडेट (आरआईएल) ने शुक्रवार को बताया कि सभी कारोबारों के अच्छे प्रदर्शन के चलते चालू वित्त वर्ष 2021-22 की जुलाई-सितंबर तिमाही में उसका शुद्ध लाभ 43 फीसदी बढ़ गया।

नयी दिल्ली, 22 अक्टूबर (भाषा) रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिडेट (आरआईएल) ने शुक्रवार को बताया कि सभी कारोबारों के अच्छे प्रदर्शन के चलते चालू वित्त वर्ष 2021-22 की जुलाई-सितंबर तिमाही में उसका शुद्ध लाभ 43 फीसदी बढ़ गया।

कंपनी ने एक बयान में बताया कि चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में उसका शुद्ध लाभ एक साल पहले के 9,567 करोड़ रुपये की तुलना में बढ़कर 13,680 करोड़ रुपये हो गया। इस तरह कंपनी ने प्रति शेयर 20.88 रुपये का शुद्ध लाभ हासिल किया, जो एक साल पहले प्रति शेयर 14.84 रुपये था।
आरआईएल ने कहा कि सितंबर तिमाही में उसकी आय 49.2 प्रतिशत बढ़कर 1,91,532 करोड़ रुपये हो गई।
रिलायंस चार व्यावसायिक क्षेत्रों में सक्रिय है- तेल-रसायन (या ओ2सी), खुदरा व्यापार, दूरसंचार शाखा और नवीन ऊर्जा व्यवसाय। ओ2सी में इसकी तेल रिफाइनरी, पेट्रोकेमिकल संयंत्र और ईंधन खुदरा व्यवसाय शामिल हैं। खुदरा व्यापार में खुदरा स्टोर और ई-कॉमर्स शामिल हैं। दूरसंचार शाखा में जियो से जुड़ी डिजिटल सेवाएं शामिल हैं।

ओ2सी में लगातार पांचवीं तिमाही के दौरान मांग में क्रमिक वृद्धि देखने को मिली। इसका तिमाही-दर-तिमाही आधार पर कर पूर्व लाभ (ईबीआईटीडीए) चार प्रतिशत बढ़कर और सालाना आधार पर 43.9 प्रतिशत बढ़कर 12,720 करोड़ रुपये हो गया।

रिलायंस रिटेल का कर पूर्व ईबीआईटीडीए 45.2 प्रतिशत बढ़कर 2,913 करोड़ रुपये हो गया।
बयान के मुताबिक जियो प्लेटफार्म्स का एकीकृत शुद्ध लाभ चालू वित्त वर्ष की जुलाई-सितंबर तिमाही में 23.48 प्रतिशत उछलकर 3,728 करोड़ रुपये रहा। आरआईएल की जियो प्लेटफार्म्स इकाई में दूरसंचार कंपनी जियो और ऐप शामिल हैं।

इससे पूर्व वित्त वर्ष 2020-21 की इसी तिमाही में जियो प्लेटफार्म्स को 3,019 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था।

कंपनी की सकल आय सितंबर 2021 को समाप्त तिमाही में करीब सात प्रतिशत बढ़कर 23,222 करोड़ रुपये रही जो एक साल पहले इसी तिमाही में 21,708 करोड़ रुपये थी।

‘इंटरकेनेक्ट’ उपयोग शुल्क के लिये समायोजन के साथ जियो प्लेटफार्म्स की सकल आय चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में सालाना आधार पर 15.2 प्रतिशत बढ़कर 23,222 करोड़ रुपये रही।

रिलायंस का पूंजीगत व्यय (विनिमय दर अंतर सहित) 30 सितंबर 2021 को समाप्त तिमाही के लिए 39,350 करोड़ रुपये था।

रिलायंस ने कहा कि वह दिवाली के आसपास बाजार में आने वाले किफायती स्मार्टफोन जियोफोन नेक्स्ट की पेशकश के लिए गूगल के साथ काम कर रही है।

आरआईएल के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने नतीजों पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, ‘‘रिलायंस ने वित्त वर्ष 2021-22 की दूसरी तिमाही में मजबूत प्रदर्शन किया है। यह हमारे व्यवसायों की अंतर्निहित ताकत और भारतीय तथा वैश्विक अर्थव्यवस्थाओं की मजबूती को दर्शाता है। हमारे सभी व्यवसायों ने कोविड से पहले के स्तरों से आगे वृद्धि की है। हमारा वित्तीय प्रदर्शन खुदरा खंड में तेज सुधार और तेल-रसायन और डिजिटल सेवा कारोबार में लगातार वृद्धि को दर्शाता है।’’
उन्होंने कहा कि आरआईएल ने सौर और हरित ऊर्जा के क्षेत्र में काम कर रहीं दुनिया की सबसे बेहतरीन कंपनियों में निवेश किया है और भरोसा जताया कि 2035 तक शुद्ध रूप से शून्य कार्बन उत्सर्जन लक्ष्य हासिल किया जा सकेगा।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

Related Story

Trending Topics

Indian Premier League
Gujarat Titans

Rajasthan Royals

Match will be start at 24 May,2022 07:30 PM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!