दूरसंचार कंपनियों का एजीआर अप्रैल-जून में 18 प्रतिशत बढ़कर 60,530 करोड़ रुपये पर

Edited By PTI News Agency,Updated: 23 Nov, 2022 09:51 PM

pti state story

नयी दिल्ली, 23 नवंबर (भाषा) दूरसंचार सेवाप्रदाताओं का समायोजित सकल राजस्व (एजीआर) अप्रैल-जून, 2022 में सालाना आधार पर 17.91 प्रतिशत बढ़कर 60,530 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) की बुधवार को जारी एक रिपोर्ट...

नयी दिल्ली, 23 नवंबर (भाषा) दूरसंचार सेवाप्रदाताओं का समायोजित सकल राजस्व (एजीआर) अप्रैल-जून, 2022 में सालाना आधार पर 17.91 प्रतिशत बढ़कर 60,530 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) की बुधवार को जारी एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है।
रिपोर्ट के अनुसार, राजस्व में हिस्सेदारी के मामले में जियो सबसे आगे रही। अप्रैल-जून, 2021 की तिमाही में दूरसंचार सेवाप्रदाताओं का एजीआर 51,335 करोड़ रुपये रहा था।
सरकार दूरसंचार सेवाओं प्रदाताओं से उनके समायोजित सकल राजस्व के आधार राजस्व में अपना हिस्सा हासिल करती है।
अखिल भारतीय स्तर पर सेवाएं देने वाली कंपनियों में जियो का एजीआर 20.58 प्रतिशत बढ़कर 21,515.88 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। भारती एयरटेल का एजीआर सालाना आधार पर 25.15 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 17,140.56 करोड़ रुपये रहा।
वोडाफोन आइडिया का एजीआर 17.93 प्रतिशत बढ़कर 7,356.54 करोड़ रुपये और बीएसएनएल का 2.6 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 2,177.95 करोड़ रुपये रहा।


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

Related Story

Trending Topics

Pakistan

137/8

20.0

England

138/5

19.0

England win by 5 wickets

RR 6.85
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!