भारतीय संग्रहालय में गोलीबारी में घायल हुए सीआईएसएफ अधिकारी को अस्पताल से छुट्टी मिली

Edited By PTI News Agency,Updated: 08 Aug, 2022 10:44 AM

pti west bengal story

कोलकाता, सात अगस्त (भाषा) कोलकाता के भारतीय संग्रहालय के अंदर अपने एक सहकर्मी की अंधाधुंध गोलीबारी में घायल हुए केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) के अधिकारी को रविवार को एक अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। अस्पताल के एक अधिकारी ने यह जानकारी...

कोलकाता, सात अगस्त (भाषा) कोलकाता के भारतीय संग्रहालय के अंदर अपने एक सहकर्मी की अंधाधुंध गोलीबारी में घायल हुए केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) के अधिकारी को रविवार को एक अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। अस्पताल के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी।

अधिकारियों ने दावा किया कि घटना के बावजूद अगले दिन देश के सबसे पुराने और सबसे बड़े संग्रहालय में आने वालों की संख्या में कोई कमी नहीं आई। सीआईएसएफ के एक सहायक कमांडेंट रैंक के अधिकारी सुवीर घोष शनिवार शाम को गोलीबारी में मामूली रूप से घायल हो गए थे, जबकि सहायक उप-निरीक्षक रंजीत सारंगी की मौत हो गई थी।

एक अधिकारी ने बताया कि घोष को यहां सरकारी एसएसकेएम अस्पताल से दिन में छुट्टी मिल गई। सीआईएसएफ के हेड कांस्टेबल ए. के. मिश्रा पर शहर के मध्य में पार्क स्ट्रीट इलाके में स्थित 200 साल पुराने संग्रहालय से जुड़ी बैरक के अंदर एके 47 राइफल से गोली चलाने का आरोप है।

मिश्रा ने आरोप लगाया है कि एक वरिष्ठ अधिकारी ने उन्हें दो महीने से अधिक समय तक ‘परेशान’ किया, जिसके कारण यह घटना हुई। गोलीबारी के एक दिन बाद भारतीय संग्रहालय में सुरक्षा कड़ी कर दी गई थी।

संग्रहालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने पीटीआई-भाषा को बताया कि सीआईएसएफ को मुख्य रूप से प्रवेश और निकास द्वार की सुरक्षा और सीसीटीवी कैमरों और गश्त के माध्यम से परिसर की निगरानी का काम सौंपा गया है, जबकि प्रदर्शनी गैलरी की निगरानी का जिम्मा संग्रहालय के कर्मचारियों पर है।

एक सवाल के जवाब में अधिकारी ने कहा कि सशस्त्र सीआईएसएफ कर्मियों की तैनाती का निर्णय संग्रहालय अधिकारी नहीं, बल्कि गृह मंत्रालय (एमएचए) लेता है। अधिकारी ने कहा कि सीआईएसएफ के पास अत्यधिक सक्षम कर्मी हैं, जो गृह मंत्रालय के निर्देशों के अनुसार आगंतुकों के हित में हर कदम उठाते हैं।

इस बीच, यह पूछे जाने पर कि क्या पिछले दिन की घटना के मद्देनजर रविवार को आगंतुकों की संख्या में कमी आई है, इस पर संग्रहालय के निदेशक ए. डी. चौधरी ने ना में जवाब दिया। उन्होंने कहा, ‘‘आगंतुकों की संख्या कमोबेश उतनी ही लगती है, जितनी पिछले रविवार या पिछले सप्ताहांत में थी।’’
साल 1814 में स्थापित भारतीय संग्रहालय केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय के प्रशासनिक नियंत्रण में एक स्वायत्त संगठन है। सीआईएसएफ दिसंबर, 2019 से संग्रहालय की सुरक्षा की जिम्मेदारी संभाल रहा है।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

Related Story

Trending Topics

India

92/4

7.2

Australia

90/5

8.0

India win by 6 wickets

RR 12.78
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!