Mutual Fund: इक्विटी म्युचुअल फंड ने बनाया रिकॉर्ड, इन्वेस्टमेंट पहुंचा 34 हजार करोड़ के पार

Edited By jyoti choudhary,Updated: 10 Jun, 2024 03:54 PM

record investment in sip investors trust in equity mutual funds increased

पिछले महीने मई में इक्विटी म्यूचुअल फंड्स में निवेश रिकॉर्ड हाई पर पहुंच गया। म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री की ट्रेड बॉडी एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स ऑफ इंडिया (AMFI) के आंकड़ो के मुताबिक मई में इन फंडों में निवेश 83.42 फीसदी उछलकर 34,697 करोड़ रुपए पर...

बिजनेस डेस्कः पिछले महीने मई में इक्विटी म्यूचुअल फंड्स में निवेश रिकॉर्ड हाई पर पहुंच गया। म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री की ट्रेड बॉडी एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स ऑफ इंडिया (AMFI) के आंकड़ो के मुताबिक मई में इन फंडों में निवेश 83.42 फीसदी उछलकर 34,697 करोड़ रुपए पर पहुंच गया। ये आंकड़े आज 10 जून को जारी हुए हैं। सिस्टमैटिक इनवेस्मेंट प्लान्स (SIP) की बात करें तो अप्रैल महीने में 20371 करोड़ रुपए के मुकाबले एसआईपी यानी सिप में मई में 20904 करोड़ रुपए का निवेश आया है। एसआईपी में 20 हजार करोड़ रुपए से अधिक का निवेश पहली बार अप्रैल 2024 में ही आया था।

ओपन-एंडेड इक्विटी फंड्स की बात करें तो मई लगातार 39वां महीना रहा, जब इनमें निकासी से अधिक निवेश आया। इक्विटी म्यूचुअल फंडों में पहली बार मई में ही 30 हजार करोड़ रुपए से अधिक नेट इनफ्लो रहा। इससे पहले नेट इनफ्लो का रिकॉर्ड मार्च 2022 का था जब 28,463 करोड़ रुपए का नेट इनफ्लो आया था। ओपन-एंडेड इक्विटी फंड्स में निवेश को सेक्टरल और थीमैटिक फंड्स से सपोर्ट मिला जिसमें पिछले महीने 19,213.43 करोड़ रुपए का नेट इनफ्लो आया। खास बात ये है कि एचडीएफसी मैनुफैक्चरिंग फंड पिछले महीने लॉन्च हुआ था और न्यू फंड ऑफर के दौरान इसमें 9653 करोड़ रुपए का निवेश आया।

स्मॉलकैप और मिडकैप फंड्स पर भी निवेशकों का रुझान बना रहा है और पिछले महीने स्मॉलकैप फंड्स में 2,724.67 करोड़ रुपए और मिडकैप फंड्स में 2,605.70 करोड़ रुपए का नेट निवेश आया। लॉन्ज कैप फंड्स की बात करें तो इसमें 663.09 करोड़ रुपए का नेट इनफ्लो आया। अप्रैल में इक्विटी म्यूचुअल फंड का इनफ्लो 16.42 फीसदी गिरकर 18,917.08 करोड़ रुपए पर आ गया था।

डेट फंड्स में भी बढ़ा निवेश

फिक्स्ड-इनकम कैटेगरी में नेट इनफ्लो 77.73 फीसदी गिरकर 42,294.99 करोड़ रुपए पर आ गया। डेट फंड्स की बात करें तो लिक्विड फंड कैटेगरी में 25,873.38 करोड़ रुपए और मनी मार्केट फंड में 8,271.75 करोड़ रुपए का मजबूत निवेश आया। वहीं दूसरी तरफ फ्लोटर फंड, क्रेडिट रिस्क फंड, मीडियम ड्यूरेशन फंड कैटेगरीज में थोड़ी नेट निकासी दिखी। हाइब्रिड फंड कैटेगरी की बात करें तो इसमें 17,990.67 करोड़ रुपए का नेट इनफ्लो आया। अधिकतर खरीदारी आर्बिट्रेज फंड कैटेगरी में दिखी जिसमें 12,758.12 करोड़ रुपए का नेट इनफ्लो दिखा। इंडेक्स फंड में 4490.35 करोड़ रुपए और गोल्ड ईटीएफ में 827.43 करोड़ रुपए का नेट इनफ्लो आया। इक्विटी और डेट फंडों में निवेश के दम पर ओवरऑल ओपन-एंडेड म्यूचुअल फंडों में 1.11 लाख करोड़ रुपए का नेट इनफ्लो आया। 
 

Afghanistan

134/10

20.0

India

181/8

20.0

India win by 47 runs

RR 6.70
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!