असेंबली में खड़े होकर फजलुर्रहमान ने PAK की चीन से दोस्ती की खोली पोल, कहा- हमने पलकें तक बिछा दीं, उन्होंने...

Edited By Tamanna Bhardwaj,Updated: 27 Jun, 2024 12:36 PM

fazlur rahman exposes pak s friendship with china

पाकिस्तान की नेशनल असेंबली के मेंबर (एमएनए) मौलाना फजलुर्रहमान ने पाकिस्तान की चीन से चल रही दोस्ती की पोल खोल के रख दी है। उन्होंने चीन से रिश्तों की स्थिति पर सवाल उठाते हुए कहा कि हम चीन पर जान लुटा रहे हैं...

इस्लामाबाद: पाकिस्तान की नेशनल असेंबली के मेंबर (एमएनए) मौलाना फजलुर्रहमान ने पाकिस्तान की चीन से चल रही दोस्ती की पोल खोल के रख दी है। उन्होंने चीन से रिश्तों की स्थिति पर सवाल उठाते हुए कहा कि हम चीन पर जान लुटा रहे हैं, लेकिन वो कह रहे हैं कि पाकिस्तान के हालात अच्छे नहीं हैं तो इसका क्या मतलब है। नेशनल असेंबली में बोलते हुए मौलाना के नाम से मशहूर फजलुर्रहमान ने कहा, 'मैं बड़े सम्मान के साथ कहना चाहता हूं कि प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ और सेना प्रमुख असीम मुनीर चीन गए, उन्होंने रिश्तों पर बहुत मेहनत की लेकिन सच्चाई ये है कि हमारे प्रधानमंत्री डिप्लोमैसी में नाकामयाब साबित हुए हैं। चीन के मंत्री यहां आए, हमने उनके सामने दिल खोलकर रख दिया और उनकी ओर से बयान आया कि पाकिस्तान में राजनीतिक स्थिरता नहीं है। ये हमारी सरकार के फेल होने को दिखाता है।'
PunjabKesari
अब पाकिस्तान पर चीन का भरोसा डगमगाने लगा...

चीन और पाकिस्तान की दोस्ती बेशक पुरानी है, क्या शायद अब पाकिस्तान पर चीन का भरोसा डगमगाने लगा है। दरअसल, चीन की नागरिकों की सुरक्षा को लेकर कई चिंताए हैं। इसकी बड़ी वजह पाकिस्तान में चीनियों पर हुए हमले हैं। इस साल मार्च में खैबर पख्तूनख्वा के कोहिस्तान जिले में दासू हाइड्रोपावर प्रोजेक्ट साइट पर जा रहे चीनी नागरिकों के काफिले पर तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान (टीटीपी) के आतंकवादियों ने हमला किया था। हमले में 5 चीनी नागरिक मारे गए थे। पाकिस्तान की कानून प्रवर्तन एजेंसियों ने इस केस की जांच पूरी कर ली है और आतंकियों पर कड़ी कार्रवाई की बात की है। पाकिस्तान के भरोसे के बावजूद चीन की सरकार संतुष्ट नहीं दिख रही है।
PunjabKesari
पाकिस्तान में चीनी नागरिकों की सुरक्षा पाकिस्तानी प्रधानमंत्री शहबाज की हाल की चीन यात्रा के दौरान एक प्रमुख चिंता का विषय थी। चीन की ओर से कई मंचों पर शरीफ के सामने इस मुद्दे को उठाया गया। चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने खुद पाकिस्तानी प्रधान मंत्री शहबाज शरीफ से कहा कि उनका देश पाकिस्तान के साथ आर्थिक संबंधों को बढ़ाना चाहता है लेकिन सुरक्षा एक मुद्दा है। इसलिए इस्लामाबाद एक सुरक्षित और स्थिर व्यापारिक माहौल बनाए। शरीफ की ओर से भी चीन को यह विश्वास दिलाने की भरपूर कोशिश की गई कि पाकिस्तान अपनी जमीन पर चीनी नागरिकों की की सुरक्षा और स्थिरता की चिंताओं को दूर करने के लिए दृढ़ संकल्पित है।
PunjabKesari
पाकिस्तान अगर सुरक्षा की स्थिति को नहीं सुधारता तो वहां काम करना मुश्किल हो जाएगा- चीन
शरीफ के बीजिंग दौरे के बाद चीन के मंत्री लियु जियानचाओ ने हाल ही में पाकिस्तान की यात्रा की है। चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के अंतरराष्ट्रीय विभाग के मंत्री लियु ने पाकिस्तानी नेताओं से साफतौर पर कहा कि पाकिस्तान अगर अपनी सुरक्षा की स्थिति को नहीं सुधारता तो वहां काम करना मुश्किल हो जाएगा। ऐसे में पाकिस्तान सुरक्षा को लेकर ज्यादा सख्त हो जाए।

Afghanistan

134/10

20.0

India

181/8

20.0

India win by 47 runs

RR 6.70
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!