इजरायल-फिलीस्तीन जंग निर्णायक मोड़ परः नेतन्याहू के रक्षा मंत्री बोले- 9 माह में हमास की 20 बटालियनें भेजीं नरक

Edited By Tanuja,Updated: 02 Jul, 2024 11:56 AM

netanyahu minister says hamas 20 battalion destroyed victory not far

इजरायली सेना IDF ने 9  महीनों के भीतर  गाजा और फिर राफा को श्मशान बना दिया है। अब  इजरायल और हमास के बीच जंग निर्णायक मोड़...

इंटरनेशनल डेस्कः इजरायली सेना IDF ने 9  महीनों के भीतर  गाजा और फिर राफा को श्मशान बना दिया है। अब  इजरायल और हमास के बीच जंग निर्णायक मोड़ पर आ चुकी है। इस दौरान हजारों निर्दोषों की जान चली गई। इस बीच  बेंजामिन नेतन्याहू   सरकार में रक्षा मंत्री योआव गैलांट ने दावा किया है कि IDF हमास की 24 में से 20 बटालियन मिट्टी में मिला चुकी है। अब सिर्फ चार बची हैं और कुछ दिनों में वो भी नहीं रहेंगी। उन्होंने कहा कि हमास के आतंकी अब हमारी सेना के आगे नहीं टिक पा रहे हैं। उनकी हथियारों की आपूर्ति बंद हो गई है और वो धीरे-धीरे मर रहे हैं।

PunjabKesari

टाइम्स ऑफ इजरायल की  रिपोर्ट के मुताबिक  रक्षा मंत्री योआव गैलांट की यह टिप्पणी फिलिस्तीनी आतंकवादी समूह के साथ युद्ध के नौ महीने बाद आई है। उन्होंने कहा कि जिन इलाकों में हमारे सैनिक हमास के खिलाफ संघर्ष कर रहे थे, वहां बढ़त हासिल कर ली है। उधर,  इजरायली अधिकारियों का कहना है कि आईडीएफ ने गाजा पट्टी में हमास की चार बटालियनों को छोड़कर बाकी सभी को हरा दिया है। अब सिर्फ राफा में दो और मध्य गाजा में दो बची हैं। राफा पर हमले को लेकर बात करते हुए गैलांट ने कहा कि आईडीएफ ने मिस्र के साथ लगती राफा सीमा पर कब्जा कर लिया है और सीमा पर 25 तस्करी सुरंगों का पता लगाया है। इन सुरंगों को नष्ट कर दिया गया है या उन पर हमारा कब्जा हो चुका है। ये वे सुरंगे बताई जा रही हैं जहां हमास को उनके समर्थकों द्वारा हथियारों की आपूर्ति की जा रही थी।

PunjabKesari

गैलांट का दावा है कि हथियार न मिलने से हमास के लड़ाके युद्ध में टिक नहीं पा रहे हैं और लड़ाई में लगातार मारे जा रहे हैं। उन्होंने सैनिकों से अपने संदेश में कहा, राफा में लड़ाई बहुत महत्वपूर्ण है। हम वास्तव में हमास को खत्म करने के करीब हैं। युद्ध का परिणाम यह निकल रहा है कि उनके पास खुद को हथियारबंद करने का कोई तरीका नहीं बचा है। हमने उनकी सुरंगों को खोज निकाला है और कब्जा कर लिया है। अब उनके पास हमारे आगे घुटने टेकने या मारे जाने के अलावा कोई और विकल्प नहीं है। उनके पास अपने हताहतों की देखभाल करने का कोई साधन नहीं है और हम इसे युद्ध में अपने लिए अच्छा संकेत मान रहे हैं। गैलेंट ने आगे कहा, हमास के आतंकियों में अब लड़ने की भावना टूट चुकी है और समय इजरायल के साथ है। जल्द ही हमास का नामो-निशान मिटा दिया जाएगा।

PunjabKesari

 

Related Story

Afghanistan

134/10

20.0

India

181/8

20.0

India win by 47 runs

RR 6.70
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!