NCERT ने 10वीं किताब में किए और बदलाव, लोकतंत्र और राजनैतिक दलों से जुड़े चैप्टर हटाए

Edited By Yaspal,Updated: 01 Jun, 2023 10:29 PM

ncert made more changes in the 10th book

राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद (एनसीईआरटी) ने 10वीं कक्षा की पाठ्यपुस्तकों से आवर्त सारणी, राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था में कृषि का योगदान, लोकतंत्र की चुनौतियों और प्राकृतिक संसाधनों के सतत प्रबंधन के अध्यायों को हटा दिया है

नेशनल डेस्कः राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद (एनसीईआरटी) ने 10वीं कक्षा की पाठ्यपुस्तकों से आवर्त सारणी, राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था में कृषि का योगदान, लोकतंत्र की चुनौतियों और प्राकृतिक संसाधनों के सतत प्रबंधन के अध्यायों को हटा दिया है। एनसीईआरटी ने विशेषज्ञ सिफारिशों के आधार पर पाठ्यक्रम को ‘‘युक्तिसंगत'' बनाने की कवायद के हिस्से के रूप में पिछले साल इन बदलावों की घोषणा की।

अब नये शैक्षणिक सत्र की पाठ्यपुस्तकों में बदलावों को लागू किया गया है। कक्षा 10वीं की रसायन विज्ञान की पाठ्यपुस्तक में छात्रों को आवर्त सारणी से परिचित कराने वाले पूरे अध्याय को हटा दिया गया है। हालांकि, यह 11वीं कक्षा के पाठ्यक्रम का हिस्सा बना हुआ है।

पाठ्यपुस्तकों में बदलाव पर एक नोट में एनसीईआरटी ने पिछले साल कहा था, ‘‘कोविड-19 महामारी को देखते हुए छात्रों पर पाठ्यक्रम का बोझ कम करना अत्यावश्यक है। राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 भी पाठ्यक्रम के भार को कम करने और रचनात्मक मानसिकता के साथ सीखने के अवसर प्रदान करने पर जोर देती है।''

आलोचकों ने किया इसका विरोध
एनसीईआरटी इन दिनों सिलेबस में तेजी से बदलाव कर रही है। हाल ही में 9वीं और 10वीं कक्षा की पाठ्यपुस्तकों से चार्ल्स डार्विन के विकासवाद के सिद्धांत को हटाने के लिए काफी विरोध हुआ था। वही जारी किया गया, पाठ्यपुस्तकों में आवर्त सारणी, प्रदूषण और जलवायु से संबंधित विषयों सहित कई और अध्यायों की कटौती का पता चला है। आलोचकों का तर्क है कि जल, वायु प्रदूषण, संसाधनों और विभिन्न ऊर्जा स्रोतों पर अध्यायों को हटाना आज की दुनिया में इन विषयों की प्रासंगिकता का खंडन करता है।

12 वीं क्लास के राजनीति विज्ञान में किताब में बड़ा बदलाव
पिछले साल जून में, कोविड-19 को महामारी बताने वाले विभिन्न पाठों को कक्षा 10 की पाठ्यपुस्तकों से हटा दिया गया था। ऐसा बच्चों पर बोझ कम करने के लिए किया गया है। हालांकि अब नई किताबें बाजारों में उपलब्ध हैं। इसके साथ ही आनंदपुर साहिब संकल्प के संदर्भ में 12वीं कक्षा के राजनीति विज्ञान से खालिस्तान और अलग सिख राष्ट्र से संबंधित विषयों को हटा दिया गया है। यह बदलाव शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की ओर से आपत्ति दर्ज कराने के बाद किया गया है।य़ अब आने वाले समय भी ऐसे कई बदलाव देखे जा सकते हैं।

Related Story

Afghanistan

134/10

20.0

India

181/8

20.0

India win by 47 runs

RR 6.70
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!