पाक अधिकृत कश्मीर के लोगों को डर- PoK पर कब्जा कर लेगा चीन, बोले- "हमें भारत में मिला लो "

Edited By Tanuja,Updated: 30 May, 2024 03:59 PM

pak occupied kashmir fears china wants to join india

पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर के लोगों को चिंता है कि चीन गिलगित-बाल्टिस्तान पर कब्ज़ा कर लेगा। वे भारत में शामिल होना चाहते हैं । यह खुलासा हुआ है...

पेशावरः  पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर के लोगों को चिंता है कि चीन गिलगित-बाल्टिस्तान पर कब्ज़ा कर लेगा। वे भारत में शामिल होना चाहते हैं । यह खुलासा हुआ है डॉ. सकारिया करीम की रिपोर्ट में। डॉ. सकारिया करीम के अनुसार यह कोई संयोग नहीं है कि पाक अधिकृत कश्मीर (PoK) में बढ़े हुए बिजली बिलों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन ऐसे समय में हुआ जब पाकिस्तान के उप प्रधानमंत्री और विदेश मंत्री मोहम्मद इशाक डार रणनीतिक कराकोरम राजमार्ग के पुनर्गठन, चीन पाकिस्तान आर्थिक गलियारे (CPEC) परियोजनाओं में तेजी, कराची-पेशावर रेलवे परियोजना के उन्नयन और एक चीनी फर्म द्वारा प्रबंधित ग्वादर बंदरगाह के सुधार की योजनाओं पर चर्चा करने के लिए बीजिंग का दौरा कर रहे थे।

PunjabKesari

अपने पिछले अनुभवों के आधार पर, PoK निवासी जानते हैं कि CPEC परियोजनाओं के तीव्र होने का मतलब चीन द्वारा PoK के संसाधनों का और अधिक दोहन होगा और PoK के लोगों के लिए और भी अधिक बढ़े हुए बिजली बिल होंगे। उपभोक्ताओं को दिए जाने वाले बढ़े हुए बिजली बिलों के खिलाफ पीओके में समय-समय पर विरोध प्रदर्शन हुए हैं। इस साल फरवरी में भी ऐसा ही एक विरोध प्रदर्शन हुआ था और पिछले साल सितंबर में भी ऐसा ही हुआ था।

PunjabKesari

PoK के लोग CPEC परियोजनाओं के खिलाफ हैं। उन्होंने सड़कों और हाइड्रो-इलेक्ट्रिक पावर स्टेशनों जैसी परियोजनाओं के निर्माण के लिए बिना मुआवज़े के उनकी ज़मीन के जबरन अधिग्रहण का विरोध किया है । उनका कहना है कि ये ऐसी परियोजनाएँ जो क्षेत्र के लोगों को लाभ नहीं पहुँचाती हैं। पाकिस्तान सरकार और पाकिस्तानी सेना गिलगित-बाल्टिस्तान के लोगों की पुश्तैनी ज़मीन का अधिग्रहण कर रही है। PoK के कार्यकर्ता और स्थानीय लोग भी चिंतित हैं कि CPEC परियोजनाएँ एक बड़ा पारिस्थितिक असंतुलन पैदा करेंगी।

Related Story

Afghanistan

134/10

20.0

India

181/8

20.0

India win by 47 runs

RR 6.70
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!