वर्चुअल करेंसी पर नजदीकी नजर रख रहा है आरबीआई: राजन

  • वर्चुअल करेंसी पर नजदीकी नजर रख रहा है आरबीआई: राजन
You Are HereEconomy
Thursday, February 13, 2014-4:05 PM

मुंबई: रिजर्व बैंक आफ इंडिया (आरबीआई) का कहना है कि वह वर्चुअल करेंसी के बढ़ते प्रयोग पर नजदीकी नजर रखे हुए हैं और जल्द ही इसके बारे में अपनी राय रखेगी। आरबीआई के गवर्नर रघुराम राजन ने ‘नासकाम इंडिया लीडरशिप फोरम’ में कहा कि केंद्रीय बैंक ने ‘बिटक्वाइन’ का इस्तेमाल करने वाले व्यापारियों और निवेशकों के लिए सुरक्षा संबंधी कुछ परामर्श जारी किए हैं। लेकिन उन्होंने यह स्पष्ट नहीं किया कि भविष्य में वर्चुअल करेंसी को लेकर आरबीआई का क्या रुख रहेगा।

 

उल्लेखनीय है कि पिछले साल दिसंबर में बैंक ने वर्चुअल करेंसी के इस्तेमाल करने वालों को वैधानिक, प्रायौगिक, वित्तीय और सुरक्षात्मक जोखिमों के बारे में सावधान किया था। गत मंगलवार को केंद्र सरकार ने भी वर्चुअल करेंसी के निर्माण, व्यापार और प्रयोग को अवैधानिक बताया और कहा कि केंद्रीय बैंक ने ऐसी किसी करेंसी को मान्यता नहीं दी है। चिदंबरम ने एक प्रश्न के लिखित उत्तर में राज्य सभा को बताया कि आरबीआई बिटक्वाइन और लिटिक्वाइंस जैसी वर्चुअल करेंसी के वैधानिक और सुरक्षा संबंधी पहलुओं की जांच कर रही है। राजन ने वर्चुअल करेंसी के महत्व को पूरी तरह खारिज नहीं किया।

 

उन्होंने कहा कि यह विकास की प्रक्रिया का एक हिस्सा है लेकिन फिलहाल इसके बारे में हमने कुछ चिंताएं जाहिर की हैं। अभी यह देखना बाकी है कि अर्थव्यवस्था में इसकी क्या भूमिका है। वर्तमान मुद्रा के साथ इसका कैसा संबंध रहेगा, इसका लाभ किसे मिलेगा और ये सरकार के लिए महत्वपूर्ण सवाल हैं।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You