सांसदों ने मुझ पर दबाव बनाया: पारख

  • सांसदों ने मुझ पर दबाव बनाया: पारख
You Are HereNational
Saturday, October 26, 2013-9:46 AM

नई दिल्ली: कोयला घोटाले में सीबीआई द्वारा आरोपी बनाए गए पूर्व कोयला सचिव पी सी पारख ने कल दावा किया कि कोयला ब्लाक आवंटन पर संसद सदस्यों के दबाव और ‘ब्लैकमेलिंग’ के बाद जब उन्होंने इस्तीफा दिया था तो प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने उनसे पद पर बने रहने के लिए कहा था। उन्होंने कहा कि वर्ष 2005 में इस्तीफा देने के बाद विदाई समारोह में वह प्रधानमंत्री से मिले थे।

पारख ने कहा, ‘‘लेकिन उन्होंने मुझसे पद पर बने रहने के लिए कहा...उन्होंने कहा कि राजनीतिक स्थिति जो भी हो, इन मुद्दों से निपटना मुश्किल है।’’

यह पूछे जाने पर कि क्या यह ऐसी स्थिति में प्रधानमंत्री की निजी ‘निराशा’ को दिखाता है, पारख ने कहा, ‘‘हां, एक तरह से।’’  उन्होंने कहा कि उन्होंने ‘सांसदों द्वारा ब्लैकमेलिंग तथा दबाव’ के बारे में तत्कालीन कैबिनेट सचिव और सीवीसी को पत्र लिखा था और उन्हें नहीं पता कि उनकी शिकायत पर कोई कदम उठाया गया या नहीं।

पारख ने आरोप लगाया कि सांसदों ने अपना काम कराने या अधिकारियों से रिश्वत लेने के लिए ब्लैकमेल और दबाव बनाने की रणनीति अपनाई।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You