हरिवंश के जीवन पर रहा चंद्रशेखर जैसे दिग्गज नेताओं का प्रभाव

  • हरिवंश के जीवन पर रहा चंद्रशेखर जैसे दिग्गज नेताओं का प्रभाव
You Are HereNational
Wednesday, January 29, 2014-10:35 AM

पटना: बिहार से राज्यसभा सीट के लिए जनता दल यूनाईटेड (जदयू) के उम्मीदवार और पत्रकार हरिवंश 1974 में संपूर्ण क्रांति आंदोलन के समय लोक नायक जयप्रकाश नारायण के संपर्क में आए और साथ ही राम मनोहर लोहिया तथा चंद्रशेखर जैसे दिग्गज नेताओं की सर्वोदय विचारधारा से प्रभावित होकर अपने पत्रकारिता जीवन में भी इस विचार को प्रमुखता दी।

उत्तरप्रदेश के बलिया जिले के सिताबदियारा गांव में 30 जून 1956 को जन्में हरिवंश का पूरा नाम स्कूली और कॉलेज के दस्तावेज में हरिवंश नारायण सिंह अंकित है लेकिन लोकनायक जयप्रकाश नारायण के आदर्श से प्रभावित होकर उन्होंने अपने नाम के बाद सिंह उपनाम का त्याग कर दिया। उन्होंने बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय से अर्थशा में स्नातकोत्तर की उपाधि ली। हरिवंश वर्ष 1977 में टाइम्स ऑफ इंडिया समूह में प्रशिक्षु पत्रकार (हिन्दी) के रूप में चुने गए और प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद धर्मयुग के संपादक डा. धर्मवीर भारती के साथ उप संपादक के रूप में काम किया।

उन्होंने वर्ष 1981 में बैंक ऑफ इंडिया में नौकरी की और बाद में रिजर्व बैंकं में भी उन्हें अधिकारी की नौकरी मिली लेकिन बैंक की नौकरी छोड़ कर वह पुन: पत्रकारिता जगत में लौट आए। कोलकाता रविवार में सहायक संपादक के रूप में उन्होंने पांच वर्षो से अधिक समय तक काम किया। वर्ष 1989 में हरिवंश रांची आए और प्रभात खबर से जुड़े।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You