पुलिसिया बर्बरता के खिलाफ अनशन

  • पुलिसिया बर्बरता के खिलाफ अनशन
You Are HereNational
Monday, March 03, 2014-11:20 PM
नई दिल्ली :  स्वामीनाथन कमेटी की सिफारिशें लागू करवाने को लेकर 22 फरवरी को हरियाणा में हुई पुलिसिया बर्बरता के खिलाफ किसानों ने सोमवार से जंतर मंतर पर आमरण अनशन शुरू कर दिया। गौ रक्षा के संत गोपाल दास महराज ने भी अनशन का समर्थन किया है।
 
किसानों के साथ हुए जुल्म के खिलाफ हरियाणा से जंतर-मंतर के लिए आमरण अनशन करने वाले संगठन भारतीय किसान ब्रिगेड के अध्यक्ष संदीप भारती ने कहा कि वे स्वामीनाथन कमेटी लागू करने के लिए आंदोलन कर रहे थे। 
 
उनका आरोप है कि उचाना में चक्का जाम कर रहे किसानों को रात में पुलिस ने ट्रक से कुचलने का प्रयास किया, जिसमें 7 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। मैडीकल रिपोर्ट आने के बाद भी पुलिस रिपोर्ट लिखने के बजाय किसानों पर ही ट्रक और उसके चालक व परिचालक के अपहरण का मामला दर्जकर जेल में डाल दिया। 
 
उनकी मांग है कि जींद के पुलिस अधीक्षक को बर्खास्त किया और वहां के पुलिस वालों के ऊपर केस दर्ज किया। अनशन पर बैठे लोगों की मांग है कि किसानों पर लगाए गए फर्जी मामलों को हटाया जाए। 
अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You