गुजरात हाई कोर्ट ने खारिज की मोदी के खिलाफ अर्जी

  • गुजरात हाई कोर्ट ने खारिज की मोदी के खिलाफ अर्जी
You Are HereGujrat
Wednesday, April 02, 2014-8:03 PM

अहमदाबाद: गुजरात उच्च न्यायालय ने एक युवती की पुलिस से कथित तौर पर जासूसी करवाने के मामले में राज्य के मुख्यमंत्री तथा भारतीय जनता पार्टी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेद्र मोदी के खिलाफ मामला दर्ज कराने की पूर्व आईएएस अधिकारी प्रदीप शर्मा की अर्जी आज खारिज कर दी। अर्जी की सुनवाई करते हुए न्यायमूर्ति जी आर उधवानी ने शिकायतकर्ता से कहा कि इस मामले में अन्य वैकल्पिक कानूनी रास्ते मौजूद है और मजिस्ट्रेट स्तर की अदालत का दरवाजा खटखटा सकते हैं। अदालत ने कहा कि यह मामला संविधान की धारा 226 के तहत उच्च न्यायालय में विचारयोग्य नहीं है। ज्ञातव्य है कि शर्मा ने इससे पूर्व राजधानी गांधीनगर में पुलिस के समक्ष मोदी के खिलाफ मामला दर्ज कराने का प्रयास किया था पर पुलिस ने इससे इंकार कर दिया था।

उन्होंने राज्य के डीजीपी पी. सी. ठाकुर और गांधीनगर के एसपी शरद सिंघल से भी मामले में हस्तक्षेप की गुहार लगाई थी। इसके बाद उन्होंने उच्च न्यायालय में 20 मार्च को याचिका दायर कर मोदी के खिलाफ मामला दर्ज करने के आदेश देने की गुहार लगायी थी। निलंबन में चल रहे शर्मा पर गुजरात में भ्रष्टाचार से जुड़़े आपराधिक मामले दर्ज हैं लेकिन उनका आरोप है कि मोदी सरकार उन्हें जानबूझ कर निशाना बना रही है। पिछले साल दो न्यूज पोर्टल के कथित सिं्टग ऑपरेशन में दावा किया गया था कि गुजरात पुलिस ने  थित तौर पर  मोदी के इशारे पर वर्ष 2009 में बेंगलूर की एक युवती की जासूसी की थी। ऑपरेशन में मोदी का सीधे तौर पर नाम लिये बिना कहा गया था कि यह जासूसी गुजरात पुलिस ने केवल मौखिक आदेश के आधार पर की थी। पोर्टल ने दावा किया था कि यह जासूसी मोदी के बेहद करीबी माने जाने वाले राज्य के तत्कालीन गृह राज्य मंत्री अमित शाह द्वारा साहब कह कर पुकारे जाने वाले व्यक्ति के लिए की गयी थी।




 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You