रेपो दर में बढ़ोतरी से शेयर बाजार में मचा कोहराम, सेंसेक्स 1,307 अंक लुढ़का

Edited By jyoti choudhary, Updated: 04 May, 2022 05:16 PM

rise in repo rate created ruckus in the stock market

शेयर बाजारों में दोपहर कारोबार में तेज गिरावट आई और दोनों मानक सूचकांक बीएसई सेंसेक्स और एनएसई निफ्टी दो प्रतिशत से अधिक लुढ़क कर बंद हुए। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के अचानक रेपो दर बढ़ाकर 4.40 प्रतिशत करने की घोषणा के बाद

मुंबईः शेयर बाजारों में दोपहर कारोबार में तेज गिरावट आई और दोनों मानक सूचकांक बीएसई सेंसेक्स और एनएसई निफ्टी दो प्रतिशत से अधिक लुढ़क कर बंद हुए। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के अचानक रेपो दर बढ़ाकर 4.40 प्रतिशत करने की घोषणा के बाद बाजार में गिरावट आई। तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 1,306.96 यानी 2.29 प्रतिशत लुढ़क कर 55,669.03 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह एक समय 1,474.39 अंक तक नीचे चला गया था। 

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 391.50 अंक यानी 2.29 प्रतिशत टूटकर 16,677.60 अंक पर बंद हुआ। रिजर्व बैंक ने रेपो दर 0.40 प्रतिशत बढ़ाकर 4.40 प्रतिशत करने का निर्णय किया। मुख्य रूप से मुद्रास्फीति को काबू में लाने के लिये केंद्रीय बैंक ने यह कदम उठाया है। खुदरा महंगाई दर पिछले तीन महीने से लक्ष्य की ऊपरी सीमा छह प्रतिशत से ऊपर बनी हुई है। छह सदस्यीय मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) की तय कार्यक्रम के बिना हुई की बैठक में सभी छह सदस्यों ने आम सहमति से नीतिगत दर बढ़ाने का निर्णय किया। दूसरी तरफ उदार रुख को भी कायम रखा गया है। 

जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के मुख्य निवेश रणनीतिकार के विजयकुमार ने कहा, ‘‘बिना पूर्व कार्यक्रम के एमपीसी की बैठक में रेपो दर में 0.40 प्रतिशत और नकद आरक्षित अनुपात (सीआरआर) में 0.50 प्रतिशत की वृद्धि ‘चौंकाने' वाली है, क्योंकि यह कदम उस दिन उठाया गया, जिस दिन एलआईसी का आरंभिक सार्वजनिक निर्गम खुला है।'' उन्होंने कहा, ‘‘देश के सबसे बड़े आईपीओ के पहले दिन सेंसेक्स में 1,000 अंक से अधिक की गिरावट ने धारणा को प्रभावित किया है।'' 

सेंसेक्स के शेयरों में टाइटन, बजाज फिनसर्व, बजाज फाइनेंस, इंडसइंड बैंक, एचडीएफसी बैंक, रिलायंस इंडस्ट्रीज, एशियन पेंट्स, मारुति और डॉ. रेड्डीज सर्वाधिक नुकसान में रहे। दूसरी तरफ पावरग्रिड, एनटीपीसी और कोटक महिंद्रा बैंक लाभ में रहे। एशिया के अन्य बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी और हांगकांग का हैंगसेंग नुकसान में रहे। यूरोप के प्रमुख बाजारों में भी दोपहर कारोबार में गिरावट का रुख रहा। इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 3.12 प्रतिशत उछलकर 108.3 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया। शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशकों ने सोमवार को 1,853.46 करोड़ रुपए मूल्य के शेयर बेचे। 

Related Story

Trending Topics

Indian Premier League
Kolkata Knight Riders

Lucknow Super Giants

Match will be start at 18 May,2022 07:30 PM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!