IMF की कंगाल पाकिस्तान को सलाह- बजट लक्ष्यों को पूरा करने के लिए करे अतिरिक्त प्रयास

Edited By Tanuja, Updated: 15 Jun, 2022 01:38 PM

imf says pakistan budget needs additional measures to meet goals

अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF ) ने  वित्त वर्ष 2022-23 के लिए पाकिस्तान को नई सलाह दी है।  IMF का कहना है कि पाकिस्तान को अपने बजट को...

इस्लामाबाद: अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF ) ने  वित्त वर्ष 2022-23 के लिए पाकिस्तान को नई सलाह दी है।  IMF का कहना है कि पाकिस्तान को अपने बजट को उसके अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष कार्यक्रम के प्रमुख उद्देश्यों के अनुरूप लाने के लिए अतिरिक्त उपाय करने की आवश्यकता होगी।  पाकिस्तान ने शुक्रवार को 2022-23 के लिए 9.5 ट्रिलियन (47 बिलियन डॉलर) के बजट जारी किया, जिसका उद्देश्य IMF  को बहुत जरूरी बेलआउट भुगतानों को फिर से शुरू करने के लिए मनाने के प्रयास करना  था।

 

इस्लामाबाद में  lender's resident   प्रतिनिधिए स्तेर पेरेज़ रुइज़ ने  कहा कि   "हमारा प्रारंभिक अनुमान है कि पाक को  बजट को मजबूत करने और इसे प्रमुख कार्यक्रम उद्देश्यों के अनुरूप लाने के लिए अतिरिक्त उपायों की आवश्यकता होगी।" इससे पहले पाकिस्तान के वित्त मंत्री ने शनिवार को कहा कि  IMF  ने ईंधन सब्सिडी, बढ़ते चालू खाते के घाटे और अधिक प्रत्यक्ष करों को बढ़ाने की आवश्यकता सहित बजट संख्या के बारे में चिंता व्यक्त की है।

 

पाकिस्तान के वित्त मंत्री मिफ्ता इस्माइल ने सोमवार को कहा कि अगर सरकार जुलाई तक पेट्रोलियम उत्पादों पर सब्सिडी खत्म नहीं करती है तो पाकिस्तान डिफाल्टर हो जाएगा। इस्माइल ने कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ (Prime Minister Shehbaz Sharif) को एक और श्रीलंका बनने से बचने के लिए एक कठिन निर्णय लेने के लिए कहा था, जो वर्तमान में आर्थिक उथल-पुथल में है। इस्माइल ने कहा कि अगर पेट्रोल उत्पादों की सब्सिडी खत्म नहीं की गई तो आइएमएफ का कोई सौदा नहीं होगा।

 

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!