Subscribe Now!

भारत-पाकः प्रधानमंत्रियों की बैठक पर निर्भर करेगी व्यापार की दिशा

  • भारत-पाकः प्रधानमंत्रियों की बैठक पर निर्भर करेगी व्यापार की दिशा
You Are HereBusiness
Wednesday, August 21, 2013-4:19 AM

नई दिल्ली: भारत ने स्पष्ट किया है कि भारत एवं पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय व्यापार को और उदार करना दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों की अगले महीने न्यूयार्क में संभावित बैठक पर ही निर्भर करेगा। हालांकि सीमा पर जारी तनाव के बीच अभी इस बात की पुष्टि नहीं हुई है कि प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह न्यूयार्क में संयुक्त राष्ट्र महासभा के सालाना सत्र के अवसर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ से मिलेंगे।

इस समय पाकिस्तान नियंत्रण रेखा पर संघर्ष विराम का लगातार उल्लंघन कर रहा है और पाकिस्तानी सेना ने हाल ही में पांच भारतीय जवानों की हत्या कर दी थी। मुख्य विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी ने मांग की है कि सीमा पर पाकिस्तानी सेना द्वारा युद्धविराम के उल्लंघन को देखते हुए सिंह को शरीफ के साथ किसी तरह की बैठक नहीं करनी चाहिए।

वाणिज्य मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, व्यापार वार्ताओं की गति तथा देशों के बीच द्विपक्षीय व्यापार का और उदारीकरण, सब कुछ दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों की न्यूयार्क में बठक पर निर्भर करता है। जनवरी में भारतीय सैनिकों की हत्या की घटना से व्यापार उदारीकरण प्रभावित हुआ है।

इसके अलावा पाकिस्तान द्वारा भारत को विशेष तरजीही राष्ट्र (एमएफएन) का दर्जा नहीं दिया जाना भी भारतीय अधिकारियों को अखर रहा है। पाकिस्तान ने पिछले साल दिसंबर तक भारत को एमएफएन का दर्जा देना था। दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय व्यापार 2012-13 में 2.60 अरब डॉलर रहा था। (एजेंसी)

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You