चालू वित्त वर्ष में विकास दर पांच प्रतिशत से अधिक रहेगी: मनमोहन

  • चालू वित्त वर्ष में विकास दर पांच प्रतिशत से अधिक रहेगी: मनमोहन
You Are HereNational
Saturday, February 15, 2014-4:40 PM

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने अर्थव्यवस्था में सुधार होने के मद्देनजर चालू वित्त वर्ष में विकास दर पांच प्रतिशत से अधिक रहने का भरोसा जताया है। सिंह ने राष्ट्रपति भवन में राज्यपालो के दो दिवसीय सम्मेलन में कहा है कि कई वर्षों तक तेज विकास के बाद पिछले दो वर्षों से अर्थव्यवस्था में सुस्ती रही है। मुद्रास्फ्ती रुपये में गिरावट के साथ ही घरेलू और विदेशी कारको की वजह से आॢथक सुस्ती आई है, लेकिन अब अर्थव्यवस्था के प्रति आशावादी होने के कई कारण है। 

प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार द्वारा किए गए उपायों से अर्थव्यवस्था में सुधार के संकेत मिलने लगे हैं। बेहतर मानसून से भी अर्थव्यवस्था को बल मिला है और ऐसा अनुमान है कि अंतिम आंकड़ों पर चालू वित्त वर्ष में विकास दर पांच प्रतिशत से अधिक रहेगी। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ने जो सुधार किए हैं उससे आगे भी विकास दर में तेजी लाने में मदद मिलेगी। 

उल्लेखनीय है कि केन्द्रीय सांख्यिकी कार्यालय.. सीएसओ.. ने हाल ही में जारी अपने आंकडो में कहा है कि चालू वित्त वर्ष में विकास दर 4.9 प्रतिशत रहेगी। इससे पहले कई संगठन भी विकास दर के पांच प्रतिशत से कम रहने का अनुमान लगा चुके हैं। वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने चालू वित्त वर्ष के बजट को पेश करते हुए विकास दर 6.1 प्रतिशत से 6.7 प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया था। हालांकि इसके बाद वित्त मंत्रालय ने भी इस अनुमान को संशोधित कर पांच प्रतिशत कर चुका है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You