भारत स्टील उत्पादन में सबसे बड़ा देश बनने की ओर अग्रसर  

  • भारत स्टील उत्पादन में सबसे बड़ा देश बनने की ओर अग्रसर  
You Are HereEconomy
Sunday, October 09, 2016-6:53 PM

चंडीगढ़: केन्द्रीय इस्पात मंत्री चौधरी बीरेंद्र सिंह ने कहा है कि भारत स्टील उत्पादन में दिसंबर तक दूसरा सबसे बड़ा देश बन जाएगा। सिंह ने कहा कि इस समय देश के सकल घरेलू उत्पाद में इस्पात उद्योग का दो प्रतिशत हिस्सा है जिसे बढ़ाने के लिए कार्य किये जा रहे हैं। मंत्रालय की ओर से किये गए समझौते के तहत जल्द ही ज्वाइंट वेंचर के अन्तर्गत स्टील उत्पादन का एक नया प्लांट लगाया जाएगा जिसकी क्षमता 10 लाख टन होगी।  

वह आज रोहतक में नवनिर्मित गंगाराम अस्पताल के उद्घाटन अवसर के बाद पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि इस प्लांट में बने ज्यादातर इस्पात को निर्यात किया जाएगा जिससे देश में विदेशी मुद्रा भी बढ़ेगी। इस प्लांट में बनाया गया स्टील उच्च गुणवत्ता वाला होगा जिसे गाडिय़ां और वैज्ञानिक उपकरणों में प्रयोग किया जाएगा। उन्होंने कहा कि दिसंबर तक भारत विश्व में दूसरा सबसे बड़ा स्टील उत्पादक देश बन जाएगा। इस श्रेणी में चीन अभी सबसे आगे है और जापान दूसरे और भारत तीसरे स्थान पर है। चीन में भारत से पांच गुणा ज्यादा उत्पादन होता है जबकि विश्व के दूसरे सबसे बड़े उत्पादक देश जापान में भारत से चार मीलियन ज्यादा उत्पादन हो रहा है। 

वर्तमान में देश में पुराने कारखानों सहित निजी प्लांटों को मिलाकर लगभग 6 लाख टन उत्पादन हो रहा है। सिंह ने कहा कि प्रदेश में कई नये कार्यक्रम तथा योजनाएं शुरू की गई हैं जिनके परिणाम आने शुरू हो गये हैं। हरियाणा में भ्रष्टाचार खत्म हो रहा है। स्वार्थ की राजनीति के चलते हमेशा कांग्रेस को नुकसान हुआ है जिससे अप्रत्यक्ष रूप में प्रदेश को भी हानि पहुंचती है। उन्होंने कहा कि अपने स्वार्थों के लिए दूसरों को पीछे छोडऩा कांग्रेस की रीत रही है। कांग्रेस को मजबूत विपक्ष की भूमिका निभानी चाहिए। कांग्रेस में सत्ता भोगने वालों ने पार्टी को आगे रखने के बजाय अपने को आगे रखा। 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You