मंडेला का पार्थिव शरीर उनके गांव लाया गया

  • मंडेला का पार्थिव शरीर उनके गांव लाया गया
You Are HereInternational
Sunday, December 15, 2013-2:10 AM

प्रिटोरिया: रंगभेद विरोधी आंदोलन के वैश्विक नेता नेल्सन मंडेला को श्रद्धांजलि देने और राष्ट्रीय शोक के दस दिन से जारी कार्यक्रम को खत्म करते हुए आज उनका पार्थिव शरीर विमान के जरिए उनके गांव कुनु ले जाया गया, जहां कल उन्हें सुपुर्दे खाक किया जाएगा।

प्रिटोरिया स्थित यूनियन बिल्डिंग में तीन दिन तक रखे गए मंडेला के पार्थिव शरीर को करीब एक लाख लोगों ने श्रद्धांजलि दी, जिसके बाद वायु सेना का एक विमान के जरिए उनके ताबूत को यहां से रवाना किया गया। वर्ष 1994 में मंडेल ने इसी स्थल से दक्षिणी अफ्रीका के पहले अश्वेत राष्ट्रपति के तौर पर अपनी नई पारी की शुरआत की थी।

मंडेला का लंबी बीमारी के बाद 95 वर्ष की उम्र में पांच दिसंबर को निधन हो गया था। रंगभेद विरोधी यह वैश्विक नेता अपने अंतिम दिन कुनु गांव में ही बिताना चाहते थे, जहां कभी उनका बचपन गुजरा था। यहां जोशा जनजाति की रीतियों के अनुसार कल उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You