अदालत ने प्रताड़ित MQM कार्यकर्ता के विवरण मांगे

  • अदालत ने प्रताड़ित MQM कार्यकर्ता के विवरण मांगे
You Are HereInternational
Wednesday, February 12, 2014-9:52 AM

इस्लामाबाद: पाकिस्तान की एक अदालत ने मुत्ताहिदा कौमी मूवमेंट (MQM) के अदालत ने प्रताड़ित कार्यकर्ता के विवरण मांगे कार्यकर्ताओं की चिकित्सा और पुलिस रिकॉर्ड के विवरण मांगे, जिन्हें कराची में 8 फरवरी को कथित रूप से प्रताडि़त किया गया था और गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती किया गया था।

समाचार पत्र डॉन के मुताबिक, सिंध उच्च न्यायालय ने कार्यकर्ता के उत्पीडऩ के मामले के खिलाफ निर्देश जारी किए हैं। एमक्यूएम के कार्यकर्ता को 8 फरवरी को एक विवाह समारोह से पुलिस ने गिरफ्तार किया था और प्रताडि़त किया था। अदालत ने पुलिस थाने के दैनिक रिकॉर्ड खाते के विवरण मांगे हैं।

प्रधानमंत्री कार्यालय के एक प्रवक्ता ने बताया कि प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने भी सिंध के पुलिस महानिरीक्षक से घटना की रिपोर्ट सौंपने को कहा है। एमक्यूएम के नेता फारूख सत्तार और कार्यकर्ता के परिजनों ने सोमवार को एक याचिका दायर की, जिसमें आंतरिक मामलों और गृह सचिव, पाकिस्तान रेंजर्स के महानिदेशक, सिंध पुलिस के महानिरीक्षक एवं अतिरिक्त महानिरीक्षक शाहिद हयात और पुलिस अधिकारियों को घटना के लिए जिम्मेदार बताया है।

मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति मकबूल बाकर की पीठ ने अधिकारियों के खिलाफ नोटिस जारी करते हुए मामले की सुनवाई 11 फरवरी तक के लिए स्थगित की है। इस बीच, एमक्यूएम के नेताओं ने कराची प्रेस क्लब और मुख्यमंत्री आवास के सामने कार्यकर्ताओं की रिहाई की मांग करते हुए प्रदर्शन किया। हिरासत में प्रताडऩा के मामले में चार पुलिसकर्मियों को रविवार को निलंबित किया जा चुका है। मुत्ताहिदा कौमी मूवमेंट पाकिस्तान की उदारवादी राजनीतिक पार्टी है, जो यथार्थवाद में विश्वास करती है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You