विस चुनाव में प्रचार से दूरी बना रहे हैं अडवानी

  • विस चुनाव में प्रचार से दूरी बना रहे हैं अडवानी
You Are HereNational
Saturday, November 16, 2013-3:29 PM

नई दिल्ली : भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण अडवानी दिल्ली में विधानसभा  चुनाव के  प्रचार से दूरी बना रहे हैं। दिल्ली फतह के लिए पार्टी के बड़े नेताओं ने चुनाव प्रचार के लिए समय व तारीख दोनों दे दी है लेकिन अडवानी अभी तक इससे दूरी बनाए हुए हैं।

हालांकि, प्रदेश भाजपा के बड़े नेता लगातार अडवानी के संपर्क में हैं लेकिन अडवानी कुछ भी कहने से बच रहे हैं जिससे पार्टी के अंदर चर्चा तेज हो गई है। वहीं, दूसरी ओर भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी आगामी 30 नवम्बर को मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के चुनावी क्षेत्र में चुनाव रैली करेंगे। पार्टी ने मोदी की रैली के लिए नई दिल्ली विधानसभा के सरोजनी नगर में जगह देख ली है।

ज्ञात हो कि शीला के खिलाफ प्रदेश भाजपा के पूर्व अध्यक्ष विजेंद्र गुप्ता चुनावी मैदान में खड़े हैं। प्रचार अभियान में पार्टी उम्मीदवारों की जीत का मार्ग प्रशस्त करने के लिए इस बार प्रचार के अंतिम 10 दिनों में भाजपा के  राष्ट्रीय नेताओं की फौज रैलियों के  लिए दिल्ली भ्रमण करती नजर आएगी जिसमें नरेन्द्र मोदी से लेकर उमा भारती, वरुणा गांधी, राजनाथ सिंह, सुषमा स्वराज और विनोद खन्ना से लेकर स्मृति ईरानी तक  पार्टी के  लिए वोट मांगते नजर आएंगे।

प्रदेश अध्यक्ष विजय गोयल ने बताया कि  पार्टी के  केंद्रीय नेतृत्व से अडवानी जी को छोड़कर ज्यादातर बड़े नेताओं ने दिल्ली में प्रचार के  लिए समय दे दिया है। उन्होंने बताया कि  नरेन्द्री मोदी 23, 30 नवम्बर और 1 दिसम्बर को दिल्ली में प्रचार करेंगे।

इसी तरह पार्टी के  राष्ट्रीय अध्यक्ष राजनाथ सिंह 25, 29 नवम्बर को, राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष अरुण जेतली 29, 30 नवम्बर को, मुरली मनोहर जोशी 30 नवम्बर व 1 दिसम्बर को, पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष वेंकैया नायडू 26, 27 नवम्बर को, मुख्तार अब्बास नकवी 29 नवम्बर व 1 दिसम्बर को, उमा भारती 24, 25 नवम्बर को, विनोद खन्ना 30 नवम्बर व 1 दिसम्बर को, स्मृति ईरानी 29, 30 नवम्बर को, वरुण गांधी 25, 26 नवम्बर को, बलबीर पुंज 1 दिसम्बर को और सबसे ज्यादा रैलियां लोकसभा में विपक्ष की नेता सुषमा स्वराज करेंगी।
 
गोयल ने बताया कि  सुषमा स्वराज 27, 28, 29, 30 नवम्बर, 1 और 2 दिसम्बर तक  दिल्ली में प्रचार के  लिए उपलब्ध रहेंगी और इस दौरान करीब 20 सभाओं व रैलियों को संबोधित करेंगी। दिल्ली में चुनाव प्रचार के  लिए पार्टी के  वरिष्ठ नेता लालकृष्ण अडवानी के  विषय में जब गोयल से पूछा गया तो उनका कहना था कि उनसे भी 2 दिन का समय मांगने की बात कही लेकिन अभी तक वहां से कोई जवाब नहीं आया है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You