‘इतिहास नेहरू के प्रति बेदर्द रहा’

  • ‘इतिहास नेहरू के प्रति बेदर्द रहा’
You Are HereNational
Sunday, November 17, 2013-9:55 AM

बेंगलुरु: पूर्व विदेश मंत्री के. नटवर सिंह ने कहा है कि भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू ने इतिहास पढ़ा, इतिहास लिखा और इतिहास बनाया मगर इतिहास हमेशा नेहरू के प्रति बेदर्द रहा। नटवर सिंह यहां नेहरू की 124वीं जयंती मनाने के लिए एम.आर.वी. फाऊंडेशन द्वारा आयोजित ‘पं. नेहरू की विरासत’ संगोष्ठी में अपना भाषण दे रहे थे।

नटवर सिंह ने कहा कि अधिकांश ऐतिहासिक व्यक्ति उनमें रुचि रखते थे। नेहरू में ऐसी कोई नए सिरे से पैदा हुई रुचि नहीं थी और इसके विपरीत उनकी प्रतिष्ठा हर वर्ष कम होने लगी।

नटवर ने कहा कि लोकप्रिय ओपिनियन पोल ने पाया कि जनता भारत के पूर्व प्रधानमंत्रियों की सूची में नेहरू को तीसरे या चौथे स्थान पर रख रही है जबकि उनको प्रथम स्थान पर रखा जाना चाहिए। नटवर ने कहा कि अगर महात्मा गांधी ने आजादी के आंदोलन को नैतिक दिशा दी तो जवाहर लाल नेहरू ने बौद्धिक आयाम देते हुए राजनीतिक वार्ता के स्तर को बढ़ावा दिया। उन्होंने कहा कि इसमें कोई संदेह नहीं कि नेहरू एक महान व्यक्ति थे। उन्होंने आगे कहा कि उनके समकालीन नेताओं जैसे स्टार्लिन और चर्चिल की तरह उनके हाथ खून से नहीं रंगे हुए थे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You