बटला हाउस मुठभेड़: दोषी को मृत्युदंड की मांग

  • बटला हाउस मुठभेड़: दोषी को मृत्युदंड की मांग
You Are HereNational
Wednesday, November 20, 2013-9:12 PM

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने उच्च न्यायालय से वर्ष 2008 के बटला हाउस मुठभेड़ मामले में एक पुलिस अधिकारी की हत्या करने के दोषी शहजाद अहमद को निचली अदालत द्वारा दी गई आजीवन कारावास की सजा को मृत्युदंड में बदलने की मांग की। न्यायमूर्ति पीके भसीन और न्यायमूर्ति वीपी वैश की पीठ ने दोषी को मृत्युदंड की मांग वाली अभियोजन पक्ष की अपील पर शहजाद को नोटिस जारी किया।

दिल्ली सरकार की ओर से अपील दायर करने वाले अधिवक्ता राजेश महाजन ने कहा कि हमने शहजाद को इस आधार पर मृत्युदंड की मांग की है कि यह दुर्लभतम मामले की श्रेणी में आता है क्योंकि इसमें ड्यूटी कर रहे एक पुलिस अधिकारी की हत्या शामिल है। उच्च न्यायालय ने दोषी को 16 जनवरी तक जवाब देने को कहा। तीस जुलाई को एक सत्र अदालत ने 25 वर्षीय शहजाद को आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी।

यह मामला 19 सितंबर 2008 का है जब जामिया नगर के बटला हाउस के एक फ्लैट में दिल्ली पुलिस की विशेष शाखा के एक दल के छापे के दौरान हुई मुठभेड़ में एक पुलिस अधिकारी की हत्या की गई थी। पुलिस का खबर मिली थी कि 13 सितंबर 2008 श्रृंखलाबद्ध विस्फोटों में शामिल आतंकवादी इसी फ्लैट में छिपे हैं। शहजाद को दो अन्य पुलिसकर्मियों को घायल करने का भी दोषी पाया गया। दोषसिद्धि के खिलाफ शहजाद की अपील भी उच्च न्यायालय में लंबित है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You